Sunday, Apr 21, 2019

केन्द्रीय मंत्री बीरेन्दर सिंह ने की इस्तीफे की पेशकश, बेटे को टिकट मिलने से हैं नाराज

  • Updated on 4/14/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केन्द्रीय इस्पात मंत्री (Ministry of Steel) एवं हरियाणा से भाजपा (BJP) के वरिष्ठ जाट नेता चौधरी बीरेन्दर सिंह (Chaudhary Birender singh) ने रविवार को कहा कि उन्होंने कैबिनेट और राज्यसभा से इस्तीफा देने की पेशकश की है। क्योंकि उनके बेटे को लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा से टिकट मिला है, और वह वंशवाद की राजनीति के खिलाफ सभी को संदेश देना चाहते हैं।

किसानों, दलितों और आदिवासियों से भेदभाव करती है मोदी सरकार : मायावती   

बीरेन्दर सिंह (Chaudhary Birender singh) ने हरियाणा के हिसार से भाजपा उम्मीदवार के रूप में अपने बेटे बृजेंन्दर सिंह के चयन के बाद इस्तीफे की पेश-कश की। इसकी जानकारी बीरेन्दर सिंह ने अपनी सरकारी आवास पर आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कही। वरिष्ठ नेता ने कहा कि उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (amit shah) को अपने इस्तीफे की पेशकश की जानकारी दी है। अब पार्टी प्रमुख को इसपर अंतिम फैसला करना है।

केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के बेटे को भाजपा ने दिया हिसार से लोकसभा टिकट   

किसान नेता सर छोटू राम के पोते बीरेन्दर सिंह (Chaudhary Birender singh) ने कहा कि वह सभी को वंशवाद विरोधी राजनीति का संदेश देना चाहते हैं ।   उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने केन्द्रीय मंत्रिमंडल और राज्यसभा दोनों से अपने इस्तीफे की पेशकश की है, और पार्टी प्रमुख को इसके बारे में सूचित कर दिया है।’’ सिंह (Chaudhary Birender singh) ने कहा कि यह भाजपा का उसूल भाई-भतीजावाद को बढ़ावा नहीं देने और वंशवादी शासन के खिलाफ लडने का रहा है और इस्तीफा देने का उनका फैसला पार्टी के उसूलों के अनुरूप है।

हेमामालिनी के लिए मथुरा में चुनावी प्रचार में जुटे अभिनेता धर्मेंद्र

बता दें कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता चौधरी बीरेन्दर सिंह अभी हरियाणा से भाजपा के राज्यसभा सदस्य (Member of parliament) हैं, जबकि उनकी पत्नी हरियाणा विधानसभा में विधायक हैं। उनके बेटे बृजेंन्दर को हिसार लोकसभा क्षेत्र से भाजपा का उम्मीदवार बनाया गया है। वह एक आईएएस अधिकारी थे।

एचडी देवेगौड़ा बोले- मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बने तो देश को बर्बाद कर देंगे    

भाजपा (bjp) में शामिल होने से पहले सिंह (Chaudhary Birender singh) कांग्रेस में तकरीबन चार दशक गुजार चुके हैं। वह 2014 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए। एक समय वह हरियाणा के मुख्यमंत्री पद के लिए प्रवल दावेदारी थी। सिंह को 2016 में ग्रामीण विकास, पंचायती राज और पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय से स्थानानंतरित कर इस्पात मंत्रालय (Ministry of Steel) दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.