Tuesday, May 17, 2022
-->

DSP श्रेष्ठा से झड़प पर BJP सांसद के विवादित बोल, मर्यादा में रहे पुलिस

  • Updated on 7/5/2017

Navodayatimes नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 23 जून को ट्रैफिक चेकिंग के दौरान बीजेपी नेता का चालान काटने और साथ ही उनकी लेडी डीएसपी से झड़प होने की बात को लेकर बीजेपी सांसद ने कार्यकर्ताओं का पक्ष देते हुए कहा कि पुलिसवालों का रवैया सही नहीं है।

अदालत का योगी सरकार से सवाल, गोरखपुर में क्यों नहीं है कोई बूचड़खाना?

मेरठ-हापुड़ लोकसभा बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने ​यह बात प्रेस कांफ्रेंस करते वक्त कही।  राजेंद्र अग्रवाल ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था को ठीक करने के लिए पूरी छूट दी है। इसका मतलब ये कतई नहीं है कि पुलिस के अधिकारी अपनी मर्यादा भूल जाएं, उन्हें अपनी मर्यादा में रहकर काम करना चाहिए।''

इसके साथ ही उन्होंने बुलंदशहर मामले को लेकर कहा कि उस लेडी ऑफिसर का व्यवहार उचित नहीं था। बीजेपी कार्यकर्ता ने कोई बदतमीजी नहीं की, जबकि लेडी ऑफिसर उसपर एग्रेस‍िव होती रही थी। मैं ये करूंगी...ये करूंगी..योगी जी से लिखवाकर ले आइए कि चालन मत करिए। यह लोकतंत्र कि सरकार है, इसके अंदर सरकार को चलाने जिम्मा है, राजनीतिक नेतृत्व का होता है ये प्रशासन को ध्यान रखना चाहिए। वो मर्यादा में रहे और पक्षपात न करें।''

यह पूरा मामला एक हफ्ते पहले का है जब बीजेपी की जिला पंचायत सदस्य के पति प्रमोद लोधी का ट्रैफिक रूल तोड़ने पर चालान किया था। चलान काटने से नाराज प्रमोद पुलिस से उलझ गए और नौबत हाथापाई तक आ पहुंची। इसके बाद पुलिस ने बाइक सीज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, स्थानीय नेता इसे अपना सम्मान मान रहे हैं और श्रेष्ठा ठाकुर के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। वहीं, बुलंदशहर से बीजेपी अध्यक्ष मुकेश भारद्वाज का कहना है कि श्रेष्ठा ठाकुर पर सीएम योगी आदित्यनाथ और अन्य पार्टी नेताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का मामला दर्ज कराया गया है।

शख्स ने अपनी प्रेमिका को गोली मरने के बाद ली खुद की जान,प्रेमिका की हालत गंभीर

वहीं, बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर आरोप लगाया था कि पुलिस अधिकारी ट्रैफिक नियमों के नाम पर रिश्वत लेते हैं। हालांकि कार्यकर्ताओं के इन आरोपों को सीओ श्रेष्ठा ठाकुर ने सिरे से खारिज कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.