Thursday, Sep 28, 2023
-->
mukesh ambani reliance industries issued bonds in foreign currency, raised $ 4 billion rkdsnt

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जारी किया विदेशी मुद्रा में बांड, जुटाए 4 अरब डॉलर

  • Updated on 1/6/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तेल से लेकर दूरसंचार क्षेत्र तक का कारोबार करने वाली कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने विदेशी मुद्रा में बांड जारी करके चार अरब अमेरिकी डॉलर का कर्ज जुटाया है। यह भारत से जारी अबतक का सबसे बड़ी राशि का विदेशी मुद्रा बांड था।  

‘बुली बाई’ मामले में असम पुलिस का दावा- ‘मुख्य षड्यंत्रकारी’ जोरहाट से गिरफ्तार

समूह ने विदेशी मुद्रा मूल्य में बांड जारी कर धन जुटाया। कंपनी की इस राशि का उपयोग मौजूदा कर्ज को चुकाने में करने की योजना है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के बयान के अनुसार, ‘‘निर्गम को 11.5 अरब डॉलर के साथ करीब तीन गुना अभिदान मिला...।’’ 

पीएम मोदी ने अपनी सुरक्षा चूक का मुद्दा राष्ट्रपति कोविंद के सामने रखा, दी पूरी जानकारी

कंपनी ने 1.5 अरब डॉलर 2.875 प्रतिशत ब्याज, 1.75 अरब डॉलर 3.625 प्रतिशत ब्याज और 75 करोड़ डॉलर 3.75 प्रतिशत ब्याज पर जुटाये। इसकी भुगतान अवधि 2032 से 2062 के बीच है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के बांड को साख निर्धारण करने वाली एजेंसियों एस एंड पी ने बीबीबी प्लस और मूडीज ने बीएए2 रेटिंग दी थी। बयान के अनुसार बांड के लिये एशिया, यूरोप और अमेरिका से आर्डर मिले। 

रिलायंस रिटेल ने डंजो में 25.8 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी 

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की खुदरा इकाई रिलायंस रिटेल ने किराना सामान के ऑनलाइन डिलीवरी कारोबार में अपनी मौजूदगी को मजबूत करने के लिए इस क्षेत्र की कंपनी डंजो में 25.8 फीसदी हिस्सेदारी 20 करोड़ डॉलर (करीब 1,488 करोड़ रुपये) में खरीदी है। दोनों कंपनियों ने एक बयान में कहा कि डंजो ने हाल में वित्त जुटाने के कार्यक्रम के तहत रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) की अगुवाई में 24 करोड़ डॉलर जुटाए थे। इसमें कहा गया, ‘‘रिलायंस रिटेल ने 1,488 करोड़ रुपये के निवेश के साथ डंजो में 25.8 फीसदी हिस्सेदारी खरीद ली है।’’ 

PM मोदी सुरक्षा चूक मामला: अमरिंदर ने पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाने की उठाई मांग

 

निवेश के अलावा डंजो और रिलायंस रिटेल कुछ व्यावसायिक साझेदारियों में भी प्रवेश करेंगे। इस अधिग्रहण के तहत डंजो जियोमार्ट के मर्चेंट नेटवर्क के लिए अंतिम छोर तक आपूर्ति की सुविधा भी देगी। रिलायंस रिटेल निदेशक ईशा अंबानी ने कहा, 'हम उपभोग के तरीकों में बदलाव देख रहे हैं। यह ऑनलाइन हो रहा है। हम इस क्षेत्र में डंजो के काम से प्रभावित हैं। डंजो देश में काम करने वाली कंपनी है और हम उनकी महत्वाकांक्षाओं को आगे बढ़ाने में उनका समर्थन करना चाहते हैं।' उन्होंने कहा, 'डंजो के साथ साझेदारी के जरिये रिलायंस रिटेल को उपभोक्ताओं को बढ़ी हुई सुविधा प्रदान करने में मदद मिलेगी। साथ ही हमारे व्यापारियों को डंकाो के हाइपरलोकल डिलीवरी नेटवर्क तक पहुंच प्राप्त होगी।'


 

PM ने पंजाब, पंजाबियों और पंजाबियत का अपमान किया, देश की छवि धूमिल की : कांग्रेस

 


 

comments

.
.
.
.
.