Friday, May 27, 2022
-->
mukesh ambani reliance industries net profit up 41.5 per cent in q3 rkdsnt

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 41.5 फीसदी बढ़ा

  • Updated on 1/21/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उद्योगपति मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने शुक्रवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 41.5 प्रतिशत बढ़ा और इस दौरान तेल, खुदरा और दूरसंचार कारोबार का प्रदर्शन बेहतरीन रहा। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि पिछले साल अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 18,549 करोड़ रुपये रहा, जो इससे पिछले वर्ष की समान अवधि में 13,101 करोड़ रुपये था।कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसकी परिचालन आय 1.28 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 1.91 लाख करोड़ रुपये हो गई। रिलायंस जियो के टैरिफ में बढ़ोतरी और अमेरिकी शेल गैस कारोबार से लाभ के चलते कंपनी बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रही। 

कंगना को सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका, अभिनेत्री की याचिका पर विचार से इंकार

 

कंपनी ने एक बयान में कहा कि तीसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ, इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 35.6 प्रतिशत बढ़ा।बाजार मूल्यांकन के आधार पर देश की सबसे बड़ी कंपनी की संचयी आय पिछली तिमाही के मुकाबले 9.5 प्रतिशत और सालाना आधार पर 52.2 प्रतिशत बढ़कर 209,823 करोड़ रुपये हो गई। रिलायंस चार व्यावसायिक कार्यक्षेत्र में सक्रिय है 1) तेल से रसायन (ओ2सी) व्यवसाय में इसकी तेल रिफाइनरी, पेट्रोकेमिकल संयंत्र और ईंधन खुदरा कारोबार शामिल हैं, 2) खुदरा कारोबार, 3) डिजिटल सेवाएं, जिसमें दूरसंचार शाखा जियो शामिल है, 4) नवीन ऊर्जा कारोबार। 

पंजाब चुनाव : केजरीवाल, भगवंत मान ने कांग्रेस, अकाली दल पर बोला हमला

कंपनी के नतीजों पर खुशी जाहिर करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा च्च्रिलायंस ने वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही में शानदार प्रदर्शन किया है। हमने अपने सभी व्यवसायों के मजबूत योगदान के साथ रिकॉर्ड परिणाम दिए हैं। त्योहारों के मौसम और ‘ऑनलाइन’ में ढील की वजह से खपत में मजबूत वृद्धि के साथ रिटेल बिजनेस की गतिविधि सामान्य हो गई है। हमारे डिजिटल सेवा व्यवसाय ने भी व्यापक, टिकाऊ और लाभदायक बढ़ोतरी दर्ज की है’’  दूरसंचार स्पेक्ट्रम की देनदारियों के चलते कंपनी एक बार फिर शुद्ध ऋण की स्थिति में आ गई। कंपनी का कुल 2,41,846 करोड़ रुपये का नकद अधिशेष, 2,44,708 करोड़ रुपये के कुल ऋण के मुकाबले कम था। कंपनी पिछली कुछ तिमाहियों से शुद्ध कर्ज मुक्त थी। 

यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक के चेयरमैन पद के लिए विनोद राय के नाम को RBI की हरी झंडी

रिफाइनिंग मार्जिन और कीमतों में सुधार के कारण सी2सी खंड का परिचालन लाभ लगातार छठी तिमाही में क्रमिक रूप से बढ़ा। ओ2सी कारोबार का कर पूर्व लाभ सालाना आधार पर 38.7त्न बढ़कर 13,530 करोड़ हो गया। भंडारण लाभ तथा पेट्रोल, डीजल और जेट ईंधन में सुधार से रिफाइनिंग मार्जिन तीसरी तिमाही में बेहतर हुआ।कंपनी को शेल गैस परिसंपत्तियों की बिक्री से 2,872 करोड़ रुपये का असाधारण लाभ हुआ। आईआईएल ने एक बयान में कहा कि जियो और रिटेल के यह अब तक के सबसे बेहतरीन नतीजे हैं। बयान के मुताबिक जियो प्लेटफॉम्र्स लिमिटेड के तहत डिजिटल सेवाओं के कारोबार ने भी जोरदार प्रदर्शन किया।       जियो का ग्राहक आधार बढ़कर तीसरी तिमाही के अंत में 42.10 करोड़ हो गया था। पिछले 12 महीनों जियो नेटवर्क से एक करोड़ ग्राहक जुड़े हैं। इस दौरान प्रति उपयोगकर्ता मासिक औसत आय (एआरपीयू) बढ़कर 151.6 रुपये हो गया। 

यूपी विधानसभा चुनाव : अवतार सिंह भड़ाना ने जेवर सीट से चुनाव लड़ने का किया ऐलान 

प्रति उपयोगकर्ता प्रति माह डेटा और वॉयस ट्रैफिक यानी कॉलिंग में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। जियो नेटवर्क पर डेटा खपत बढ़कर 18.4 जीबी और वॉयस ट्रैफिक 901 मिनट हो गई। इनमें क्रमश: 42.6 प्रतिशत और 13.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। कंपनी ने बताया कि जियो की फिक्डलाइन ब्रॉडबैंड सेवा जियोफाइबर के भी 50 लाख ग्राहक हो गए हैं और इस संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है।  देश भर के लगभग 1,000 शहरों में 5जी के परीक्षण को आगे बढ़ाया है। कोविड महामारी का डर खत्म होने के साथ रिलायंस रिटेल ने दिसंबर 2021 की तिमाही के दौरान अब तक सबसे अधिक आय हासिल की। डिजिटल और न्यू कॉमर्स कारोबार से भी रिटेल को मजबूती मिली। समीक्षाधीन तिमाही के दौरान रिलायंस रिटेल की कुल आय 52.5त्न बढ़कर 57,714 करोड़ हो गई, जबकि एबिटडा में सालाना आधार पर 23.8 प्रतिशत का उछाल आया। रिलायंस रिटेल ने समीक्षाधीन तिमाही के दौरान 837 नए स्टोर खोले हैं। अब रिलायंस रिटेल के स्टोर की कुल संख्या 14,412 हो गई है, जो चार करोड़ वर्ग फुट में फैले हैं।

अमर जवान ज्योति को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

रिलायंस रिटेल का लाभ भी बढ़ा 
रिलायंस रिटेल का कर पूर्व लाभ चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 23.81 प्रतिशत बढ़कर 3,822 करोड़ रुपये रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) समूह की खुदरा कंपनी को इससे पिछले वित्त वर्ष की अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में कर पूर्व (ईबीआईटीडीए) 2,312 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था। कंपनी ने शुक्रवार को बताया कि 31 दिसंबर 2021 को समाप्त तिमाही के दौरान उसकी परिचालन आय 53.41 प्रतिशत बढ़कर 50,654 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। एक साल पहले इसी अवधि में यह 33,018 करोड़ रुपये थी। 

आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा, 'रिलायंस रिटेल ने वित्त वर्ष 2021-22 की तीसरी तिमाही में शानदार प्रदर्शन किया है। हमने अपने सभी व्यवसायों के मजबूत योगदान के साथ रिकॉर्ड नतीजे दिए हैं।' उन्होंने कहा, 'त्योहारों के मौसम और कोरोना संबंधी प्रतिबंधों में ढील की वजह से खपत में मजबूत वृद्धि के साथ खुदरा कारोबार की गतिविधियां सामान्य हो गई है। कंपनी के डिजिटल सेवा व्यवसाय ने भी व्यापक, टिकाऊ और लाभदायक बढ़ोतरी दर्ज की है।' रिलायंस रिटेल के अनुसार कंपनी ने समीक्षाहीन तिमाही के दौरान देशभर में 837 नए स्टोर खोले हैं। इसके साथ कंपनी के स्टोर की कुल संख्या 14,412 हो गई है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.