Thursday, Mar 21, 2019

मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसा, रेलवे और BMC के खिलाफ दर्ज हुई FIR

  • Updated on 3/15/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दक्षिणी मुंबई में एक रेलवे स्टेशन के पास गिरे फुट ओवर ब्रिज का बड़ा हिस्सा ढह जाने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6 हो गई है और 32 अन्य घायल हो गए। इस मामले में महाराष्ट्र सरकार ने उच्च स्तरीय जांच की सिफारिश की है।

आईपीसी की धारा 304 ए (लापरवाही से मौत) के तहत मध्य रेलवे और बीएमसी के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें कि दक्षिणी मुंबई में एक रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार शाम पैदल पार (फुट ओवर) पुल का बड़ा हिस्सा ढह जाने से 6 लोगों की मौत हो गई जबकि 32 अन्य घायल हो गए। आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के अधिकारी ने बताया कि सभी घायलों को निकटवर्ती अस्पतालों में ले जाया गया है।

मुंबई: फुटओवर ब्रिज हादसे में मरने वालों की संख्या हुई 5, मुआवजे का ऐलान

बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह पुल पर मरम्मत कार्य चल रहा था इसके बावजूद इसका इस्तेमाल किया गया। अधिकारी ने बताया कि घटना शाम साढ़े सात बजे हुई जब पुल का अधिकांश हिस्सा गिर गया। उन्होंने बताया, दमकल कर्मी तत्काल मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है। हमने मोटर यात्रियों से डी एन मार्ग से लेकर जे जे फ्लाईओवर तक के रास्ते पर जाने से बचने के लिए कहा है।’’

पुलवामा में फिर बरपा आंतक का कहर, एक व्यक्ति की गोली मारकर की हत्या 

मुंबई पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘सीएसटी के प्लेटफॉर्म संख्या एक के उत्तरी छोर को टाइम्स ऑफ इंडिया इमारत के पास बीटी लेन से जोडऩे वाला पैदल पार पुल ढह गया है। यातायात प्रभावित हो गया है। यात्री अन्य मार्गों का इस्तेमाल करें। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं।’’ पुलिस प्रवक्ता मंजूनाथ सिंगे ने बताया कि मृतकों की पहचान अपूर्वा प्रभु (35), रंजना ताम्बे (40), भक्ति शिंदे (40), जाहिद शिराज खान (32) और टी सिंह (35) के रूप में हुई है। प्रभु और ताम्बे जीटी अस्पताल में काम करते थे।

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का आज दिल्ली में हल्ला बोल, हुंकार रैली में होंगे शामिल 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने मृतकों के परिजन के लिए पांच-पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि 40 साल पुराने इस पुल के गिरने की जांच एक उच्चस्तरीय समिति करेगी। घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। उनके इलाज का खर्च सरकार वहन करेगी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.