Thursday, Apr 09, 2020
mumbai lockdown coronavirus india updates coronavirus in india coronavirus effect

बुजर्ग दंपति की आंखें हुई नम, जानें कोरोना से ठीक होने के बाद समाज में कैसा होता है बर्ताव

  • Updated on 3/26/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र (Maharashtra) राज्य है, जहां संक्रमितों संख्या 124 हो गया है, वही चार लोगों की मौत हो चकी है। एक ओर जहां देश में हर दिन संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं वहीं कई लोग ठीक भी हुए हैं। हाल ही में मुंबई (Mumbai) में करोना संक्रमित बुजुर्ग पति-पत्नी ठीक होकर घर लौटे। अस्पताल से डिस्चार्ज होते वक्त उनके मन में एक आशंका थी कि आसपास के लोग या पड़ोसी उनके साथ अब कैसा व्यवहार करेंगे। पिछले कुछ दिनों में रिश्तेदारों और पड़ोसियों से बुरे बर्ताव के मामले सामने आए हैं। जिससे उनके मन में कई सवाल उठते रहे लेकिन जब यह बुजुर्ग पति-पत्नी ठीक होकर अपने घर लौटे तो नजारा कुछ और ही था। पड़ोसियों ने उनके लिए पूरी सोसाइटी सजाई थी यह देखकर उन्हें बहुत हैरानी हुई इस बुजुर्ग दंपति को घर आते ही उन्हें गुड़ी पड़वा की बधाई दी गई।

तीन हफ्तों के लॉक डाऊन के फैसले से धुर विरोधी आशुतोष भी बने मोदी के मुरीद, ‘हम खुशकिस्मत हैं कि मोदी

पति-पत्नी का खुले दिल से किया स्वागत
बता दें कि बुजुर्ग शख्स 70 साल के हैं और उनकी पत्नी 68 साल की हैं, वे मंगलवार शाम कस्तूरबा अस्पताल से एंबुलेंस में अपने घर ठीक होकर पहुंचे। दवाइयों के साइड इफेक्ट्स के कारण पत्नी काफी कमजोर हो गई थी, ऐसे में बुजुर्ग पति को इस बात की चिंता थी कि उन्हें अपार्टमेंट में दूसरे फ्लोर तक कैसे पहुंचाया जाएगा। इससे भी ज्यादा उन्हें इस बात की भी चिंता थी कि पड़ोसी उनके घर पहुंचने पर उनसे कैसा बर्ताव करेंगे। लेकिन इनके घर पर पहुंचने पर पड़ोसियों ने इनका खुले दिल से स्वागत किया।

कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति बना हैवान दुकानदार को पीट-पीटकर की हत्या

टूर पर गए थे बुजुर्ग दंपति
इतना ही नहीं इनके पड़ोसियों ने इनके लिए डिनर और लंच का भी इंतजाम किया। इन सब को देखते हुए बुजुर्ग दंपति ने ने बताया कि उन्होंने हमें सुखद आश्चर्य दिया है उन्होंने हमारे लिए मंगलवार रात डिनर तैयार किया, डिनर में उन्होंने साधारण घर का खाना बनाया था। अगले दिन उन्होंने हमें लंच भी दिया और डिनर का भी वादा किया। हम घर वापस आ कर खुश हैं। बता दें कि यह दंपति 40 सदस्य टूर ग्रुप में शामिल होकर दुबई गए थे और वापस आने के बाद 11 मार्च को यह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

मरिजों के साथ होता है अछित जैसा व्यवहार
वहीं दूसरी ओर घाटकोपर स्लम में एक महिला के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनके बेटे इस बात से डरे हुए थे कि उनके पड़ोसी कैसा व्यवहार करेंगे। क्योंकि पड़ोसियों के व्यवहार को लेकर उनके मन में डर था। मां के कोरोना पॉजिटिव निकलने पर उनके पड़ोसियों ने उनसे और अछूत की तरह व्यवहार किया था। लेकिन जब मंगलवार को मां लौटकर आई तो पड़ोसियों को रिपोर्ट दिखाई गई चीजें बेहतर हो गई बेटे ने कहा एक बार मां जब पूरी तरह ठिक हो जाएगी तो चीजें और बेहतर हो जाएगी।

उल्लासनगर में खुश हुुए पड़ोसी
इसी तरह से उल्लासनगर में भी 49 साल की महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी जिसके बाद महिला और उनके भाई को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ठीक होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर वापस यह लोग जब लौटे तो उनके घर वापस आने से ना सिर्फ घरवालों ने राहत की सांस ली बल्कि आसपास रहने वाले लोग भी बेहद खुश नजर आए।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या अखबार पढ़ने से हो सकता है कोरोना का संक्रमण? जानिए क्या कहता है WHO

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

इन आयुर्वेदिक उपायों का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा Coronavirus पास 

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

मिल गया Coronavirus का इलाज! जल्द ठीक हो सकेंगे सभी संक्रमित 

comments

.
.
.
.
.