Monday, Sep 27, 2021
-->
munawwar rana urdu poet advice to muslims clerics in happy month of ramadan corona rkdsnt

रमजान के मुबारक महीने में शायर मुनव्वर राणा ने मौलवियों दी खास सलाह

  • Updated on 4/24/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना संक्रमण के बीच रमज़ान का मुबारक महीना शुरू हो गया है। इसके साथ ही लोगों मुस्लिम धर्म गुरू और सरकार रमजाम को लेकर तरह-तरह की हिदायत दे रही हैं। उधर, उर्दू के मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने रमज़ान के मुबारक महीने में टीवी डिबेट में जाने वाले मौलवियों को एक खास सलाह दी है।  

कोरोना लॉकडाउन: विपक्ष की आलोचनाओं के बाद अब मजदूरों को वापस लाएगी योगी सरकार

कोरोना संक्रमण : क्या पीएम केयर्स फंड का ऑडिट नहीं करेगी CAG!

राणा ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'रमज़ान के मुबारक महीने में किसी भी आलिम या मौलवी को न्यूज़ चैनल्स के डिबेट में जा कर अपना और अपने भाई-बहनों का रोज़ा खराब नहीं करना चाहिए।' बता दें कि आलिम या मौलवी टीवी न्यूज चैनलों में चर्चाओं के दौरान अकसर नजर आते हैं और हिंदू-मुस्लमान की बहस को हवा देते हैं। ऐसे में समाज में नफरत और बंटवारे का माहौल पैदा हो रहा है। 

प्रियंका गांधी ने कुछ मजदूरों को वापस लाने की पहल पर योगी सरकार को दिया साधुवाद

इसी को देखते हुए मुनव्वर राणा ने मस्लिम समाज के मौलवियों को टीवी डिबेट से दूर रहने की सलाह दी है। बता दें कि मुनव्वर राणा अपनी शायरी और ट्वीट के जरिए समाज में भाईचारे को बढ़ावा देने पर जोर देते रहे हैं। 

 

पीएम केयर्स फंड को लेकर यशवंत सिन्हा बोले- अब भगवान ही मालिक है

राणा ने अपने एक ट्वीट में शेर भी लिखा है, 'काश इस ख़्वाब की पूरी कभी ये ज़िद हो जाए, हम जहां सर को झुका दें वहीं मस्जिद हो जाए। दिलों की कुर्बत और जिस्मों के फ़ासलों के साथ रमज़ान आपको मुबारक हो।'

महंगाई भत्ते पर रोक लगाने के खिलाफ सरकार कर्मचारियों ने बुलंद की आवाज

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.