Wednesday, Apr 14, 2021
-->
munger-firing-case-shiv-sena-samana-bjp-secular-image-bihar-election-prsgnt

मुंगेर कांड: शिवसेना का BJP पर वार- आंखों पर चढ़ा सेक्युलर चश्मा, चुप क्यों हैं खोखले हिंदुत्ववादी?

  • Updated on 10/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार के मुंगेर में दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान हुए गोलीकांड के बाद इस मसले पर भी राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गई है। बिहार चुनाव (Bihar Assembly Election) को लेकर जहां भारतीय जनता पार्टी काफी आतुर नजर आ रही है तो वहीँ मुंगेर के बहाने शिवसेना ने बीजेपी पर हमला किया है। 

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में बीजेपी पर तंज कसा है। सामना के एडिटोरियल में लिखा है, जो हमारा है वह अच्छा है, जो दूसरों का है वह खराब है, फिलहाल भारतीय जनता पार्टी की ओर से इसी प्रकार का व्यवहार शुरू है। 

Video: सेल्फी ले रहे समर्थक को तेजस्वी ने धकेला पीछे! JDU ने कहा- जंगलराज का युवराज

शिवसेना ने सामना में लिखा है, बिहार, उत्तर प्रदेश और हरियाणा राज्यों में जो कुछ हो रहा है, उसे देखते हुए वहां कानून का राज बचा है क्या? ऐसा सवाल किया जा सकता है। लेकिन ये राज्य भाजपा शासित होने के कारण वहां पर सब कुछ ठीक-ठाक है। गड़बड़ सिर्फ महाराष्ट्र, पंजाब, पश्चिम बंगाल और राजस्थान में ही है। 

शिवसेना ने कहा है, बिहार में विधानसभा चुनाव का पहला चरण समाप्त हो चुका है। प्रधानमंत्री मोदी सहित कई नेताओं ने बिहार की प्रचार सभाओं में लोगों से पूछा, ‘तुम्हें जंगलराज फिर से चाहिए क्या? नहीं चाहिए तो भाजपा और जदयू के पक्ष में मतदान करो!’ गत १५ सालों से बिहार में नीतीश कुमार का ही शासन है। लगता है वे लोग इस बात को भूल गए हैं। 

PAK में कश्मीर पर चल रही थी मीटिंग, हैकरों ने बजा दिया- श्रीराम जानकी बैठे हैं मेरे सीने में

शिवसेना ने कहा कि मुंगेर जिले में दुर्गा विसर्जन के दौरान पुलिस ने गोलीबारी की। मूर्ति का जबरन विसर्जन करवा दिया गया। गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 15 लोग घायल हो गए। पुलिसवालों का यह कृत्य जनरल डायर को भी लजाने वाला था, इस प्रकार का आक्रोश शुरू है। दुर्गा पूजा की विसर्जन यात्रा में यह उत्पात मचा और पुलिसवालों ने सीधे गोलियां चला दीं। इस गोलीबारी में अनुराग पोद्दार नामक 18 वर्षीय युवक की मौत हो गई। दुर्गा पूजा के विसर्जन के दौरान यह उत्पात, हिंसाचार और पुलिस की गोलीबारी की घटना पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में हुई होती तो ‘घंटा बजाओ’ छाप खोखले हिंदुत्ववादियों ने अबतक नंगा नाच शुरू कर दिया होता। 

'चीन से थरथराते हैं और कश्मीर में लूटने का कानून', PDP का दफ्तर सील होने पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती

शिवसेना ने तंज करते हुए कहा, दुर्गा पूजा में गोलीबारी को एक प्रकार से हिंदुत्व पर हमला बताकर बवाल मचाया गया होता। पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था समाप्त होने का आरोप लगाकर वहां तत्काल प्रभाव से राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की जाती। इस गोलीबारी की सीबीआई जांच करवाने की मांग करवाने के लिए भाजपा का प्रतिनिधिमंडल राजभवन में चाय-पान के लिए गया होता। लेकिन ओ घंटाबाज हिंदुत्ववादियों! मुंगेर में दुर्गा पूजा यात्रा पर हुई गोलीबारी पर तुम्हारा मुंह बंद क्यों है?

BJP नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से इस मामले को लेकर मांगी माफी

शिवसेना ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा, मुंगेर का हिंदुत्व रक्तरंजित हो गया। पूरे बिहार में इस खून के छींटे उड़े लेकिन हिंदुत्व के सारे राजनीतिक ठेकेदार मुंह की पट्टी से आंख ढंक कर चुप बैठे रहे। महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में दुर्भाग्य से या अपघात से ऐसा हुआ होता तो इनका हिंदुत्व दक्ष और सावधान हो जाता। ‘मुंगेर’ जैसे हिंदुत्व और दुर्गा पूजा पर हमले के मामलों को दबाया जाता है। लेकिन पालघर में साधुओं का खून उबलते हुए पूछ रहा है कि मुंगेर में जो हिंदुओं का खून बहा, उसके विरोध में घंटा कब जाओगे? कम से कम थाली ही बजा दो! देखो, बिहार में हिंदुत्व पर पुलिसवाले गोलियां चलाते हैं!

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.