Saturday, Jul 31, 2021
-->
muslim-group-protests-against-france-president-emmanuel-macron-in-bhopal-prsgnt

भोपाल में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन, CM शिवराज ने कहा- मध्यप्रदेश शांति का टापू

  • Updated on 10/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुस्लिम देशों और फ्रांस के बीच पैगंबर मोहम्मद साहब का कार्टून विवाद अब भारत पहुंच गया है। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के खिलाफ मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में जोरदार प्रदर्शन किया गया। बीते गुरुवार को भोपाल के इकबाल मैदान में बड़ी संख्या में लोग जुटे और सभी ने नारों के साथ विरोध प्रदर्शन किया। 

बताया जा रहा है कि ये जोरदार और बड़ा प्रदर्शन भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने करवाया था। इस प्रदर्शन ने लोगों ने फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन का वीडियो सोशल मीडिया से सामने आया जो देखते ही देखते वायरल हो गया।

इस प्रदर्शन में शामिल हुए लोगों के पास स्लोगन लिखी तख्तियां थीं और इन हजारों लोगों ने इस्लाम को बचाने के नारे लगाए। इस प्रदर्शन पर पुलिस ने काफी सख्ती दिखाते हुए लोगों को डिटेन किया और विधायक आरिफ मसूद के साथ उनके कई सर्मथकों को हिरासत में लिया। पुलिस ने आरोप लगाया कि उन्होंने कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन किया है और उनके खिलाफ मुकदमा भी दायर किया।

दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस प्रदर्शन को लेकर ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए मध्यप्रदेश शांति का टापू है। इसकी शांति को भंग करने वालों से हम पूरी सख्ती से निपटेंगे। इस मामले में 188 IPC के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जायेगा, वो चाहे कोई भी हो।

फ्रांस के चर्च में आतंकी हमला, 3 लोगों की निर्मम हत्या कर महिला का चाकू से काटा गला....

वहीँ, इस वीडियो को शेयर करते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता संबित पात्रा ने ट्वीट किया है। ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा है, भयावह। लेकिन उनके इस ट्वीट के बाद उन्हें तीखे सवालों का सामना करना पड़ गया। लोगों ने पूछा कि वहां सरकार आपकी है तो अब आप क्या कहेंगे?

बताते चले कि इस पूरे विवाद की शुरूआत तब हुई जब 16 अक्टूबर को फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून अपनी क्लास में दिखाने वाले शिक्षक की गला काट कर बेरहमी से हत्याे कर दी गई। यह घटना में सैम्युएल पैटी को कॉनफ्लैंस सेंट-होनोरिन में विरोध के चलते मार दिया गया था। पैटी की हत्या करने वाला एक 18 वर्षीय लड़का था जिसमें भड़कते हुए गला काट कर उनकी हत्या कर दी। हालांकि पुलिस ने उस को मौके पर गोली मार दी थी।

comments

.
.
.
.
.