Tuesday, Aug 16, 2022
-->
muslim-organizations-rage-on-wasim-rizvi-on-quran-issue-bjp-also-hot-rkdsnt

कुरान के मुद्दे पर वसीम रिजवी पर भड़के मुस्लिम संगठन, भाजपा भी गर्म

  • Updated on 3/16/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कुरान से 26 आयतें हटाने के लिए उच्च्तम न्यायालय में याचिका दायर करने के मामले में उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ सोमवार को दो संगठनों - अंजुमन खुद्दामे ए रसूल तथा इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) - ने पुलिस को अलग-अलग तहरीर देकर संयुक्त प्राथमिकी दर्ज करायी है । ये दोनों संगठन दरगाह आला हजरत से जुड़े हैं । 

पंजाब : सिद्धू को मनाने में जुटे सीएम अमरिन्दर, अहम पद देने की अटकलें

अंजुमन खुद्दामे रसूल के सचिव शान अहमद की ओर से रिजवी के खिलाफ कोतवाली में दी गयी तहरीर में उनके बयान को इस्लाम और संविधान के खिलाफ बताया गया है । आईएमसी ने भी रिजवी के खिलाफ तहरीर दी है जिसके बाद पुलिस ने संयुक्त रूप से प्राथमिकी दर्ज की है। बरेली के पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह साजवान ने बताया कि रिजवी के खिलाफ कोतवाली में मामला दर्ज किया गया है।इस बीच रजा एक्शन कमेटी की ओर से उलेमाओं ने चेतावनी दी है कि यदि रिजवी के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई नहीं की गई तो वे सड़कों पर उतरेंगे। 

भाजपा उम्मीदवार घोषित होने के बाद दासगुप्ता का RS से इस्तीफा, मोइत्रा ने उठाए सवाल

कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना अफरोज रजा कादरी ने कहा कि वसीम रिजवी के पीछे फिरकापरस्त ताकतें काम कर रही हैं जिन्हें बेनकाब करने का वक्त आ गया है। इससे पहले उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी द्वारा कुरान शरीफ से 26 आयतें हटवाने के इरादे से उच्चतम न्यायालय में अर्जी दाखिल किये जाने के विरोध में रविवार को राजधानी लखनऊ स्थित बड़े इमामबाड़े में व्यापक प्रदर्शन किया गया था। 

स्कैनिया स्कैम : कांग्रेस गडकरी पर लगे आरोपों को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर

शिया धर्म गुरु और ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वरिष्ठ सदस्य मौलाना कल्बे जव्वाद की अगुवाई में बड़ी संख्या में लोगों ने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी का विरोध करते हुए उनके खिलाफ दुनिया भर के मुसलमानों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजने की मांग की थी।  

भाजपा ने भी की रिजवी की याचिका की निंदा 
उत्तरप्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के कुरान की कुछ आयतों को हटाने के लिए उच्चतम न्यायालय का रूख करने के बाद भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सैयद शाहनवाज हुसैन ने मंगलवार को कहा उनकी पार्टी दृढ़ता से उन लोगों के खिलाफ है जो किसी भी धार्मिक ग्रंथ का अपमान करते हैं। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि रिजवी को इस तरह के कृत्य में लिप्त होकर देश का माहौल खराब नहीं करना चाहिए। 

यूपी, हरियाणा के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने बंगाल में BJP के खिलाफ खोला मोर्चा

हुसैन ने कहा, ‘‘मैं वसीम रिकावी की उक्त याचिका की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं। यह मेरी पार्टी का रूख है कि कुरान सहित किसी भी धार्मिक ग्रंथ के बारे में बेतुकी बातें कहना एक अत्यंत निंदनीय कार्य है।’’ उन्हेांने कहा कि भाजपा उन लोगों के खिलाफ है जो किसी भी धार्मिक ग्रंथ का अपमान करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा कुरान या किसी भी धार्मिक ग्रंथों के किसी भी बदलाव के पक्ष में नहीं है। 

राहुल गांधी बोले- अधिनायकवादी ताकतों की गिरफ्त में जा रहा है भारत, निशाने पर RSS

भाजपा नेता ने कहा कि उनकी पार्टी रिजवी के विचारों को स्वीकार नहीं करती है क्योंकि यह लोगों की भावनाओं को आहत करता है और उन्हें लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का कोई अधिकार नहीं है। रिजवी ने हाल ही में उच्चतम न्यायालय का रुख करते हुए कुरान के 26 आयतों को हटाने की मांग की है। 

 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.