Saturday, Jul 31, 2021
-->
mystery with sachin vaje becomes a woman seen in a hotel nia in search prshnt

सचिन वाझे के साथ होटल में दिखी महिला बनी मिस्ट्री, तलाश में जुटी NIA

  • Updated on 3/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया (Antilia) के पास मिले विस्फोटक लदी कार मामले में एनआईए ने सचिन वाजे को गिरफ्तार किया है, इस मामले में जांच में जुटी एनआईए (NIA) अब उस महिला के बारे में पता लगा रही है, जो उसके साथ देखी गई। जानकारी के मुताबिक सचिन वाझे 16 से 20 फरवरी के दौरान दक्षिण मुंबई स्थित एक फाइव स्टार होटल में ठहरा था और इस दौरान उसके साथ एक महिला होटल के अंदर जाती दिखी थी। जिसके बाद से एनआईए उस महिला की तलाश में जुटी है। बताया जा रहा है कि पूरे मामले में वह महिला एक अहम कड़ी साबित हो सकती है।

दरअसल मनसुख हिरेन की स्कॉर्पियो कार मिसिंग होने के एक दिन पहले सचिन वाझे होटल में ठहरने के लिए आया था। इस दौरान उसने फर्जी आधार कार्ड के जरिए होटल में स्टे किया था और इस दौरान एक महिला भी उसके साथ थी। बताया जा रहा है कि वह महिला उन लोगों में से हो सकती है, जिनसे सचिन वाझे ने एक केस के सिलसिले में पूछताछ की थी। 

न्यायालय ने महिला अधिकारियों की याचिकायें की स्वीकार, सेना में स्थायी कमीशन को SC की मंजूरी

100 करोड़ रुपये की वसूली की पुष्टी
बता दें कि अब वाजे ने पूर्व पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह के आरोपों की पुष्टि कर दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मुंबई पुलिस की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) के पूर्व प्रमुख ने एनआईए की पूछताछ में कहा कि गृहमंत्री अनिल देशमुख ने उसे 100 करोड़ रुपये की वसूली का लक्ष्य दिया था। साथ ही, इसके अलावा एक अन्य हाई प्रोफाइल मंत्री का भी नाम इस मामले में सामने आया है। सचिन वाजे से एनआईए ने पूछताछ की, जिसमें उन्होंने कहा इस दूसरे हाई प्रोफाइल मंत्री ने भी बीते साल उसे वसूली का लक्ष्य दिया था। 

दरअसल बीजेपी के पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने आरोप लगाया है कि सचिन वाजे ने 1000 करोड़ रुपए का लेनदेन किया है। उन्होंने कहा कि साल 2020-2021 में वाजे गैंग ने एक हजार रुपए की वसूली की थी। वह पैसे कहां से वसूले और कहां गए, इसकी जांच एनआईए, ईडी, भारतीय रिजर्व बैंक, रजिस्ट्रार ऑफ कंपनी और आयकर विभाग को करनी चाहिए।

BSP सुप्रीमो का योगी सरकार पर निशाना, महिलाओं की सुरक्षा पर उठाए सवाल

वाजे के करीबी अफसरों को क्राइम ब्रांच से हटाया
बता दें कि महाराष्ट्र सरकार ने अपने अधिकारियों के पोस्टिंग में फेरबदल की है। सरकार ने मुंबई पुलिस में बड़ा फेरबदल करते हुए 86 अफसरों और कर्मचारियों का ट्रांसफर कर दिया है। जानकारी के मुताबिक इनमें 65 अधिकारी मुंबई क्राइम ब्रांच के हैं, जिसमें एंटीलिया मामले में विवादित अफसर सचिन वाझे की तैनाती थी। एनआईए द्वारा सचिन वाझे की गिरफ्तारी के बाद से माना जा रहा है कि सरकार ने उसके करीबी अफसरों को क्राइम ब्रांच से हटाया है। सरकार ने जिन अधिकारियों का ट्रांसफर किया है, उनमें पीआई, एपीआई और पीएसआई लेवल के अफसर शामिल हैं।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.