Tuesday, Dec 07, 2021
-->
Nainital High Court issues notice to Uttrakhand BJP government and Satpal Maharaj rkdsnt

भाजपा सरकार और सतपाल महाराज को नैनीताल हाइकोर्ट ने जारी किया नोटिस

  • Updated on 6/5/2020

हल्द्वानी/ ब्यूरो। नैनीताल हाईकोर्ट ने शुक्रवार को प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि जब आम लोगों पर क्वारंटाइन नियमों का उल्लंघन करने पर मुकदमे दर्ज हो रहे हैं, तो संवैधानिक पद पर बैठे लोगों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है। 

राहुल गांधी ने कोरोना और चीन सीमा मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा

इस मामले में हाईकोर्ट की खंडपीठ ने उत्तराखंड सरकार और कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज को नोटिस जारी कर तीन सप्ताह में अपना जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश रमेश रंगनाथन और न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की खंडपीठ में हुई।

UPSC ने किया सिविल्स परीक्षाओं की तारीख का ऐलान, जानिए कब होंगे प्री-मेन्स एग्जाम

देहरादून निवासी उमेश शर्मा ने हाईकोर्ट नैनीताल में दायर जनहित याचिका में महाराज पर कोरोना वायरस से बचने के लिए केंद्र सरकार से जारी गाइडलाइन के उल्लंघन का आरोप लगाया है। बता दें कि देहरादून के जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से 20 मई को महाराज के आवास पर नोटिस चस्पा किया गया था। 

BJP नेत्री सोनाली फोगाट ने सरकारी कर्मचारी को चप्पल से पीटा, वीडियो वायरल

20 मई से 3 जून तक होम क्वारंटाइन की सलाह दी थी। लेकिन, महाराज ने इसका खुला उल्लंघन किया और कैबिनेट की दो अहम बैठकों में भाग लिया। उन्होंने होम क्वारंटाइन होने की जानकारी भी कैबिनेट से छिपाई। याचिका में कहा गया है कि कैबिनेट मंत्री की इस लापरवाही से उत्तराखंड राज्य कैबिनेट के सभी सदस्यों को क्वारंटाइन होना पड़ा।

केजरीवाल ने बढ़ते कोरोना मामलों के बाद दिल्लीवासियों से की खास अपील

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.