Tuesday, Aug 03, 2021
-->
narda case all four tmc leaders will remain on house arrest calcutta high court prshnt

Narda case: हाउस अरेस्ट पर रहेंगे TMC के चारों नेता, कलकत्ता हाई कोर्ट ने सुनाया ये फैसला

  • Updated on 5/21/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल के नारद स्टिंग मामले में शुक्रवार को कोलकाता हाई कोर्ट ने सुनवाई की। कोर्ट ने सुनवाई में टीएमसी के चारों नेताओं को अंतरिम जमानत दे दी। हालांकि हाई कोर्ट ने चारों को फिलहाल हाउस अरेस्ट रखे जाने का आदेश दिया है। दरअसल नारदा मामले में सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के दो मंत्रियों, तृणमूल कांग्रेस के एक विधायक तथा पार्टी के एक पूर्व नेता को गिरफ्तार किया था। 

बता दें कि बंगाल में चल रहे नारदा केस में तृणमूल कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं को 19 मई तक की हिरासत में रखने का आदेश दिया गया था। वहीं इन्हें कोलाकाता हाई कोर्ट से बड़ा झटका लगा था। कोलकाता हाईकोर्ट ने नारद स्टिंग मामले में बीते सोमवार को देर रात सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए पश्चिम बंगाल के मंत्रियों और नेताओं को दी गई जमानत पर रोक लगा दी थी। सीबीआई स्पेशल कोर्ट की तरफ से दी गई जमानत पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी थी, इसके बाद ये चारों न्यायिक हिरासत भेजे गए।

कोविड चुनौतियों के समाधान के लिए आयुष मंत्रालय ने जारी किया ये टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर

गिरफ्तार किए गए बंगाल के मंत्रियों- नेताओं को लाया गया जेल
इससे पहले नारद केस में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए तृणमूल कांग्रेस के मंत्रियों और एक विधायक तथा एक पूर्व नेता को सोमवार देर रात कोलकाता में प्रेसीडेंसी करेक्शनल होम ले जाया गया। केंद्रीय जांच एजेंसी से जुड़े सूत्रों ने इस बारे में बताया कि मंत्री सुब्रत मुखर्जी और फरहाद हकीम, तृणमूल कांग्रेस के विधायक मदन मित्रा और पूर्व नेता शोभन चटर्जी को चिकित्सकीय जांच के बाद निजाम पैलेस स्थित सीबीआई के दफ्तर से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जेल ले जाया गया। बता दें कि इन चारों नेताओं को सोमवार सुबह गिरफ्तार किया गया था।

Toolkit पर संबित पात्रा के ट्वीट को ट्विटर ने मार्क किया 'Manipulated Media'

कलकत्ता हाई कोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक
नारद स्टिंग टेप मामले में गिरफ्तार नेताओं के खिलाफ सीबीआई ने आरोपपत्र भी दाखिल किया है। सीबीआई की विशेष अदालत ने इस मामले में तृणमूल के नेताओं को जमानत दे दी थी लेकिन कलकत्ता उच्च न्यायालय ने विशेष अदालत के इस आदेश के अमल पर रोक लगा दी।

Vaccination ने पकड़ी रफ्तार! अब तक हो चुका है 19 करोड़ से अधिक टीकाकरण

कोर्ट ने कहा ये
उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने इस मामले में सुनवाई के दौरान कहा कि विशेष अदालत के आदेश पर रोक लगाना ही सही होगा। न्यायालय ने अगले आदेश तक सभी अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेजने का भी आदेश दिया। नारद टीवी न्यूज चैनल के मैथ्यू सैमुअल ने 2014 में कथित स्टिंग ऑपरेशन किया था जिसमें तृणमूल कांगेस के मंत्री, सांसद और विधायक लाभ के बदले में एक कंपनी के प्रतिनिधियों से कथित तौर पर धन लेते नजर आए।

comments

.
.
.
.
.