Tuesday, Sep 28, 2021
-->
naresh tikait says farmers will take a wise decision in 2022 up assembly elections rkdsnt

टिकैत ने किया साफ- किसान यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में सोच समझ कर लेंगे फैसला

  • Updated on 6/25/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने मेरठ से दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर के लिये किसान ट्रैक्टर रैली की शुरुआत करते हुए शुक्रवार को कहा कि किसान कृषि कानूनों को लेकर अपनी मांग माने जाने तक 'घर वापसी’’ नहीं करेंगे और अब 2022 के चुनाव में भी सोच-समझ कर फैसला लेंगे। 

शिवसेना नेता राउत बोले- राम मंदिर भूमि खरीद केस CBI, ED जांच के लायक

मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा से किसान ट्रैक्टर यात्रा के दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर रवाना होने से पहले किसानों को संबोधित करते हुए टिकैत ने कहा, किसान अपनी मांगे माने जाने तक घर वापसी को तैयार नही हैं। कृषि कानूनों की वापसी के लिए किसानों ने करो या मरो का संकल्प लिया है और किसान कृषि कानूनों को वापस कराकर रहेंगे। 

बाबा रामदेव IMA की FIR के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की शरण में

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों के संदर्भ में उन्होंने कहा, 'किसान अब 2022 के चुनाव में भी सोच-समझ कर फैसला करेंगे। आंदोलन जारी रहेगा और गाजीपुर बॉर्डर पर 26 (जून) को होने वाली किसान महापंचायत में आगे की रणनीति बनाई जाएगी।’’  इस दौरान किसानों की ट्रैक्टर यात्रा के कारण कई मार्गों को यातायात व्यवस्था प्रभावित हो गई और मोदीपुरम,कंकरखेड़ा, बागपत बाईपास से परतापुर तक लंबा जाम लग गया।  

बिना कांग्रेस के विपक्षी मोर्चा बनाने की कोशिश भाजपा को फायदा पहुंचाएगी: नाना पटोले


 

comments

.
.
.
.
.