Sunday, Mar 24, 2019

मंगल पर सबसे पहले NASA भेजेगा एक महिला, ये है वजह

  • Updated on 3/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा है कि मंगल ग्रह पर सबसे पहले एक महिला कदम रख सकती है।   नासा के प्रशासक व्हाइल ब्राइडेनस्टीन ने किसी व्यक्ति की पहचान नहीं की लेकिन कहा है कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी की आगामी परियोजनाओं में महिलाओं को आगे रखा गया है।  

स्वतंत्र भारत के पहले मतदाता, जो 2019 के लोकसभा चुनाव में भी करेंगे मतदान

यह पूछे जाने पर कि क्या चंद्रमा पर पहली बार एक महिला उतरेगी तो ब्राइडेनस्टीन ने कहा, निश्चित तौर पर। बल्कि चंद्रमा पर पहला अगला व्यक्ति एक महिला हो सकती है।’’ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी रेडियो कार्यक्रम साइंस फ्राइडे को हाल में दिए गए साक्षात्कार के दौरान ब्राइडेनस्टीन ने कहा, ‘‘यह भी सच है कि मंगल पर पहला शख्स भी एक महिला हो सकती है।’’

पैसा कमाने की है चाहत, तो जानें अमीर बनने की विदुर नीति

नासा ने हाल ही में घोषणा की थी कि इस महीने के अंत तक उसका पहला ऐसा स्पेसवॉक तैयार हो जाएगा जिसमें सभी महिलाएं होंगी और अंतरिक्ष यात्री एने मैकक्लेन एवं क्रिस्टीना कोच को अंतरिक्ष की सैर का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा, च्च्मार्च के अंत में हमारे पास पहला स्पेसवॉक होगा जिसमें सभी महिलाएं होंगी, यह महीना बेशक राष्ट्रीय महिला माह है। इसलिए नासा यह निश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है कि हमारे पास प्रतिभा का विस्तृत एवं विविधता भरा समूह हो।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.