Thursday, Aug 18, 2022
-->
national medical commission removes upper age limit for neet-ug eligibility

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग ने नीट यूजी पात्रता के लिए ऊपरी आयु सीमा हटाई

  • Updated on 3/10/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) ने नीट-स्नातक 2022 परीक्षा में बैठने वाले छात्रों के लिए ऊपरी आयु सीमा को हटा दिया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 2017 में अधिकतम आयु सीमा अनारक्षित उम्मीदवारों के लिए 25 वर्ष और आरक्षित उम्मीदवारों के लिए 30 वर्ष निर्धारित की थी। एनएमसी सचिव डॉ. पुलकेश कुमार द्वारा नौ मार्च को राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) के वरिष्ठ निदेशक डॉ. देवव्रत को एक पत्र भेजा गया।

दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण पर आयोजित हुआ दो दिवसीय सम्मेलन

एनएमसी सचिव ने एनटीए को पत्र लिख दी सूचना 
इस पत्र में कहा गया कि मैं सूचित करना चाहता हूं कि 21 अक्टूबर, 2021 को आयोजित चौथी एनएमसी बैठक में यह निर्णय लिया गया कि नीट-यूजी परीक्षा में बैठने के लिए कोई निश्चित ऊपरी आयु सीमा नहीं होनी चाहिए। इसलिए सूचना बुलेटिन को इसके मुताबिक संशोधित किया जा सकता है। पत्र में कहा गया कि इसके अलावा, इस आशय के लिए स्नातक चिकित्सा शिक्षा,1997 पर विनियमों में उपयुक्त रूप से संशोधन करने के लिए आधिकारिक अधिसूचना की प्रक्रिया शुरू की गई है।

आईआईटी दिल्ली बदलेगा करिकुलम, लर्निंग बाई डूइंग पर रहेगा फोकस : निदेशक

अब उम्मीदवार मेडिकल प्रवेश परीक्षा में कई बार बैठ सकते हैं
उम्र के मानदंड पर अक्सर देश के सर्वोच्च न्यायालय और उच्च न्यायालयों में सवाल उठाए जाते रहे हैं। एक अधिकारी ने कहा कि आयु सीमा मानदंड हटा दिए जाने के साथ, उम्मीदवार अब मेडिकल प्रवेश परीक्षा में कई बार और अन्य पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने के बाद भी बैठ सकते हैं। यह कदम विदेश में दाखिला लेने वाले छात्रों के लिए भी मददगार होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.