Monday, Aug 02, 2021
-->
ncp demands formation of non political committee to monitor expenditure ram temple fund rkdsnt

NCP ने की राम मंदिर कोष के खर्च की निगरानी के लिए गैर राजनीतिक समिति बनाने की मांग

  • Updated on 6/18/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने बृहस्पतिवार को कहा कि श्रद्धालुओं की एक गैर राजनीतिक समिति को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए एकत्र कोष के व्यय पर नजर रखनी चाहिए। अयोध्या में भूमि खरीदने में कथित घोटाले के मामले के बीच यह मांग की गयी है, हालांकि राम मंदिर ट्रस्ट ने आरोपों से इनकार किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने मंजूर की 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के मूल्यांकन की योजना

महाराष्ट्र के मंत्री और राकांपा के प्रदेश प्रमुख जयंत पाटिल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘राम भक्तों की एक गैर राजनीतिक समिति को मंदिर निर्माण के लिए कोष के खर्चे में पारदर्शिता बनाए रखने की जिम्मेदारी सौंपी जानी चाहिए।’’ वह शिवसेना और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प को लेकर एक सवाल पर जवाब दे रहे थे। भाजपा कार्यकर्ता शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में भूमि खरीदारी के विवाद को लेकर आलोचनात्मक टिप्पणी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे।     

एल्गार मामले में NIA ने इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य पर अमेरिकी फॉरेंसिक कंपनी के दावे को किया नामंजूर 

राकांपा नेता ने कहा, ‘‘राम मंदिर की पवित्रता बनी रहनी चाहिए। सभी रामभक्तों का मानना है कि पूरी आस्था और विश्वास के साथ मंदिर का निर्माण होना चाहिए। भ्रष्टाचार के आरोप दिखाते हैं कि किस तरह भगवान का इस्तेमाल राजनीतिक और आॢथक लाभ के लिए किया गया।’’  ‘सामना’ के एक संपादकीय में कहा गया कि अगर कांग्रेस अगला चुनाव अकेले लडऩा चाहती है तो, शिवसेना और राकांपा महाराष्ट्र के हित में एकजुट रहेगी।

कोरोना के दुष्प्रभाव से मरने वालों के परिजन को मुआवजा देने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका 

इस बारे में पूछे जाने पर पाटिल ने कहा कि सत्तारूढ़ गठबंधन के तीनों दलों को एकजुट रहना चाहिए और साथ रहने पर ध्यान देना चाहिए। हालांकि उन्होंने कहा, ‘‘सामना का कहना है कि राकांपा और शिवसेना को हाथ मिलाना होगा...ऐसा लगता है कि राज्य के लोग भी यही चाहते हैं।’’  उन्होंने कहा कि शायद कांग्रेस अपने संगठन को मजबूत करने और कार्यकर्ताओं को उत्साहित करने के लिए अकेले चुनाव लडऩे की बात कर रही है और चुनाव आने पर प्रदेश कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले संभवत: अपना मन बदल लेंगे।      

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.