Friday, Dec 03, 2021
-->
ncp praful patel says modi bjp govt should consulted pawar badal on agricultural laws rkdsnt

मोदी सरकार को कृषि कानूनों पर पवार, बादल से करना चाहिए था विचार-विमर्श : प्रफुल्ल

  • Updated on 11/28/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राकांपा के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल (Praful Patel) ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार ने नये कृषि कानून बनाते समय अगर शरद पवार, प्रकाश सिंह बादल और पूर्व मुख्यमंत्री एच डी देवगौड़ा जैसे नेताओं से विचार-विमर्श किया होता तो किसानों के प्रदर्शन से बचा जा सकता था। पंजाब और हरियाणा के किसानों ने तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए दिल्ली की ओर कूच किया जिसके बाद उनका पुलिस के साथ संघर्ष हुआ। 

राहुल गांधी बोले- मोदी सरकार की क्रूरता के खिलाफ डटकर खड़ा है देश का किसान

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘यह (किसानों का प्रदर्शन) केंद्र सरकार की विफलता है। सरकार को शुरुआती चरण में ही किसानों से बातचीत करनी चाहिए थी और नये कानून लाने से पहले सोचना चाहिए था। मेरा मानना है कि सरकार को (राकांपा प्रमुख) शरद पवार, प्रकाश सिंह बादल (पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री), एच डी देवगौड़ा (पूर्व प्रधानमंत्री) जैसे नेताओं से विचार-विमर्श करना चाहिए था।’’ 

अखिलेश बोले- ‘जिहादी उन्माद’ फैलाकर फिर जनता को भटकाने की कोशिश में लगे सीएम योगी

उन्होंने कहा, ‘‘इन नेताओं से विचार-विमर्श करने के बाद सरकार को नये कृषि विधेयकों में खामियों का पता चलता। अगर ये चीजें पहले की जातीं तो विधेयकों का विरोध नहीं होता।’’ महाराष्ट्र में शिवसेना-राकांपा- कांग्रेस सरकार के पहले वर्षगांठ पर पटेल ने कहा कि यह सफल वर्ष रहा। उन्होंने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी के बीच राज्य सरकार ने कई अच्छे निर्णय किए और कई विकास कार्यों की शुरुआत की।’’

इंटरनेशनल का खुलासा- एशिया में सर्वाधिक रिश्वत की दर भारत में

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.