Monday, Aug 08, 2022
-->
ndmc-launches-new-education-projects

एनडीएमसी ने किया नई शिक्षा परियोजनाओं का शुभारंभ

  • Updated on 1/25/2022

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लागू राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत अपने स्कूलों में शिक्षा प्रणाली के उत्थान और अधिक व्यवहारिक शिक्षा प्रदान करने के लिए नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) ने अपने स्कूलों में छात्रों और शिक्षकों की बेहतरी के लिए नई शिक्षा परियोजनाओं को प्रारंभ किया है। जिसका शुभारंभ एनडीएमसी उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने किया।
डब्ल्यूसीडी ने किया विशेष बाल संवाद का आयोजन

अपग्रेड होंगी प्राथमिक कक्षाएं, आनलाइन होगी पठन सामग्री: सतीश उपाध्याय
सतीश उपाध्याय ने इस दौरान बताया कि एनडीएमसी में शिक्षा को समावेशी बनाने के लिए अटल टिंकरिंग लैब, स्मार्ट क्लासरूम, डिजिटल लाइब्रेरी, लैंग्वेज लैब, ऑडिटोरियम का उन्नयन, मेधावी छात्रों को नकद-पुरस्कार, प्राथमिक कक्षा के छात्रों को मुफ्त स्टेशनरी, समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लगभग 2500 छात्र-छात्राओं ऑनलाइन पढने की सामग्री उपलब्ध करना, शिक्षक संसाधन केंद्र, विज्ञान पार्क, बैग रहित कक्षा, नेचर-क्लास व 100 दिवसीय पठन अभियान आदि हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 ने विशेष रूप से पूरी दुनिया में शिक्षा प्रणाली के लिए अभूतपूर्व चुनौतियां पेश की हैं। एनडीएमसी ने इस चुनौती को एक अवसर के रूप में लिया और अपने सभी छात्रों के लिए शिक्षार्थियों के लिए घर पर स्कूली शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह से प्रौद्योगिकी का लाभ उठाया। इन पहलों में वास्तविक समय ऑनलाइन शिक्षण, छात्रों के लिए कहीं भी किसी भी समय सीखना, ऑनलाइन मूल्यांकन, ऑनलाइन पीटीएम, स्टाफ मीटिंग और शिक्षक प्रशिक्षण और एनडीएमसी यूट्यूब चैनल आदि शामिल हैं। एनडीएमसी अपनी सभी प्राथमिक कक्षाओं को कक्षा 1 से 5 तक स्मार्ट कक्षाओं में परिवर्तित करके अपग्रेड कर रहा है। इस वित्तीय वर्ष में एक स्मार्ट बोर्ड आधारित स्मार्ट क्लास, स्कूलों में ऑडिटोरियम का उन्नयन, 14 पालिका टिंकरिंग लैब की स्थापना, 10 एनडीएमसी नवयुग स्कूलों में से प्रत्येक में एक प्रकृति आधारित कक्षा कक्ष स्थापित किया जाएगा।
नई दिल्ली में दिखेगा लालकिला, इंडिया गेट व फाईटर प्लेन

मेधावी छात्रों को मिलेगा पुरस्कार
उपाध्याय ने बताया कि एनडीएमसी ने 10वीं और 12वीं कक्षा के शीर्ष 10 मेधावी छात्रों को पूर्व-प्राथमिक और प्राथमिक कक्षाओं के छात्रों को 10,000 रुपए की नकद पुरस्कार, निःशुल्क स्टेशनरी देकर पुरस्कृत करने का निर्णय लिया है। एनडीएमसी ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के 2500 छात्रों को ‘टॉपर्स’ ऑनलाइन शिक्षण सामग्री भी प्रदान की। 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के साथ-साथ सभी शिक्षकों को टैबलेट उपलब्ध कराने की प्रक्रिया में है। जबकि तुगलक क्रिसेंट में राष्ट्रीय विज्ञान केंद्र के सहयोग से साइंस पार्क की स्थापना की जाएगी। सभी स्कूलों में प्राथमिक विंग में गतिविध केंद्र खोले जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.