Friday, Jul 01, 2022
-->
negotiations between india and china to resolve border dispute will be held albsnt

सीमाई विवाद को सुलझाने फिर होगी भारत और चीन के बीच वार्ता, टिकी सबकी नजर

  • Updated on 6/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत और चीन के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। कभी दोनों पक्षों के बीच खूनी हिंसक झड़पें होती है तो कभी बातचीत का दौर भी होता है। लेकिन टेंशन बरकार रहता है। इसी कड़ी में एक बार फिर से भारत और चीन के बीच बातचीत मंगलवार को होगी। जिसमें दोनों पक्षों में तनाव खत्म करने के लेकर सहमति बनाने की पुरजोर कोशिश की जाएगी।

चीन विवाद के बीच केंद्र सरकार ने 340 करोड़ रुपये के सड़क निर्माण को दी मंजूरी

हालांकि इस बार यह बातचीत भारतीय पक्ष चुशूल में होने जा रहा है। जबकि एक महीने के अंदर-अंदर दो बार कमांडर स्तर की बातचीत पहले ही हो चुकी है। दोनों बार यह बातचीत चीनी क्षेत्र मोल्डो में हुई थी। पहली बार 6 जून को यह बातचीत हुई। दोनों पक्ष डेढ़ किमी पीछे हटने पर राजी भी हुए। लेकिन जिस तरह से 15 जून को चीन ने भारत को धोखा दिया,उससे देश भर में रोष व्याप्त है। उसके बाद फिर यह बैठक 22 जून को हुई। यह बैठक लंबी तकरीबन 11 घंटे तक चली। लेकिन इसके बाद भी तनाव खत्म होने के आसार नजर नहीं आए। उसके बाद फिर से मंगलवार को तीसरे दौर की बातचीत होगी। जिस पर दुनिया भर की नजर टिकी रहेगी।

केंद्रीय मंत्री का बड़ा खुलासा- चीन के तंबू में आग लगने से हुई सैनिकों की झड़प!

मालूम हो कि 15 जून को भारत और चीन के बीच खूनी संघर्ष हुआ था। जिसमें चीन ने धोखे से भारत पर घात लगाकर हमला कर दिया। जिससे 20 जवान शहीद हो गए। वहीं 40 से भी चीनी सैनिकों के मारे जाने की बात कही जा रही है। हालांकि चीन आधिकारिक तौर पर यह कहने से बचता नजर आ रहा है। लेकिन इस झड़प के बाद देश भर में चीनी सामनाों के बहिष्कार की भी मुहिम चलाई गई है। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.