Tuesday, Sep 28, 2021
-->
nepal-government-clarified-its-stand-regarding-ban-on-patanjali-coronil-drug-rkdsnt

पतंजलि की कोरोनिल पर रोक को लेकर नेपाल सरकार ने अपना रुख किया साफ

  • Updated on 6/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेपाल सरकार ने देश में पतंजलि की आयुर्वेद आधारित कोरोनिल के खिलाफ कोई औपचारिक प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी नहीं किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को यह जानकारी दी। योगगुरु रामदेव ने पिछले साल 23 जून को आयुर्वेद आधारित कोरोनिल किट उस समय पेश की थी, जब भारत में कोविड-19 महामारी अपने चरम पर थी। 

मराठा आरक्षण, जीएसटी के मुद्दे पर महाराष्ट्र के सीएम ठाकरे ने पीएम मोदी से की मुलाकात

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ कृष्ण प्रसाद पौडयाल ने उन खबरों का खंडन किया कि नेपाल सरकार ने देश में कोरोनिल पर प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार ने दवा के खिलाफ कोई औपचारिक प्रतिबंध आदेश जारी नहीं किया है।’’

FIR दर्ज होने के बाद शुभेन्दु अधिकारी ने की अमित शाह से मुलाकात

उन्होंने कहा कि आम जनता को वितरित की जाने वाली किसी भी प्रकार की दवा को पहले स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय के अंतर्गत औषधि प्रशासन विभाग में पंजीकृत होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले नेपाल के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री हृदयेश त्रिपाठी को कोरोनिल का एक पैकेट उपहार में दिया गया था। उन्होंने कहा, ‘‘इसके अलावा मुझे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है।’’

कोर्ट ने जुर्माने के साथ MP नवनीत राणा का जाति प्रमाणपत्र रद्द किया, सदस्यता पर लटकी तलवार

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि कोरोनिल कोरोना बीमारी को ठीक कर सकती है। उन्होंने कहा कि नेपाल में कई आयुर्वेदिक दवाएं उपलब्ध हैं, जो लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकती हैं और कोरोना संक्रमण से निजात दिलाने में भी मदद कर सकती हैं। हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अभी तक किसी भी ऐसी दवा को मंजूरी नहीं दी है जो कोरोना का इलाज कर सके।

बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के कारण विस्थापित हुए झुग्गी निवासियों ने गुजरात हाई कोर्ट का किया रुख 

     

comments

.
.
.
.
.