Saturday, Nov 27, 2021
-->
nepal-kp-oli-pm-narendra-modi-lipulekh-issue-nepal-china-india-relation-sobhnt

नेपाल के पीएम ने की भारत पर टिप्पणी, बोले- 'सत्यमेव जयते है या सिंहमेव जयते'

  • Updated on 5/20/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिल। भारत और नेपाल के बीच पिछले कुछ दिनों से सीमा विवाद बढ़ता जा रहा है। बता दें हाल में नेपाल ने अपने देश का नया नक्शा जारी किया था। जिसमें भारतीय क्षेत्र लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी को अपना हिस्सा दिखाया था। वहीं इससे पहले नेपाल ने भारतीय सेना द्वारा लिपुलेख क्षेत्र में सड़क निर्माण के बाद भी अपनी आपत्ति जताई थी। इसके बाद अब नेपाल ने भारत पर एक और टिप्पणी की है।

एक लाख से पार पहुंचा भारत में कोरोना के संक्रमण का आंकड़ा, 3301 ने गंवाई जान

ये किया ट्वीट
नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली शर्मा ने ट्वीट कर कहा है कि भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक में 'सत्यमेव जयते' लिखा है या फिर सिंहमेव जयते'? दरअसल इस तरह का ट्वीट करके ओली ने भारत पर तंज कसा है। ओली इस ट्वीट के माध्यम से कहना चाहते हैं कि भारत सत्य की जीत चाहता है या फिर ताकत की जीत। वहीं इसके अलावा नेपाली प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि वह भारत के साथ अपनी दोस्ती को मजबूत करना चाहते हैं इसलिए पूर्व की गलतफहमियों को सुधारना बेहद जरुरी है। 

AAP सांसद संजय सिंह बोले- मजदूरों के लिए डंडा राज में बदला BJP राज

कहा चीन को भी किया स्पष्ठ
इसके अलावा नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने देश सेना प्रमुख के चीफ एम. एम नरवणे के उस बयान पर भी आपत्ति जताई है। जिसमें उन्होंने कहा था कि नेपाल के रुख में बदलाव आंतरिक नहीं बाहरी है। उन्होंने इसके लिए चीन को जिम्मेदार बताया था। उनके इस बयान पर ओली ने कहा है कि चीन को भी हमने अपना पक्ष स्पष्ठ किया है। ओली कहते हैं कि हम केवल अपनी जमीन पर हक जता रहे हैं। क्योंकि हम अपने देश की जनता का प्रतिनिधित्व करते हैं। और यह आवाज हमारे देश की आवाज है। 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.