Wednesday, Apr 25, 2018

IIT कानपुर की नई कोशिश, हिंदू पवित्र ग्रंथों का किया डिजिटलाइजेशन

  • Updated on 1/11/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  IIT कानपुर ने हिंदू पवित्र ग्रंथो के डिजिटलाइजेशन की अनोखी  प्रक्रिया शुरू की है। इसमें हिंदुओं के सभी पवित्र ग्रंथों और पुराणों की ऑडियो और टेक्स्ट उपलब्ध होगी। ऐसी अनोखी शुरूआत करने वाला IIT कानपुर पहला देश का पहला इंजीनियरिंग कॉलेज बन गया है। यह सेवा कॉलेज के आधिकारिक पोर्टल पर शुरू की गई है, जहां पर www.gitasupersite.iitk.ac.in का लिंक दिखाई देता है।

लालू यादव की पैरवी करने वाले के खिलाफ CM योगी ने दिए जांच के आदेश

इस लिंक में श्रीमद्भगवतगीता, रामचरितमानस, ब्रह्मसूत्र, योगसूत्र, श्री राम मंगल दासजी, नारद भक्ति सूत्र, वाल्मीकि रामायण के सुंदरकांड और बालककांड के संस्कृत अनुवाद को भी यहां अपलोड किया गया है। वहीं संस्थान के डायरेक्टर महेंद्र अग्रवाल और प्रफेसर टी वी प्रभाकर ने कहा है कि 'सभी अच्छी चीजों की आलोचना होती है। इतने महान और धार्मिक कार्य के लिए धर्मनिरपेक्षता पर सवाल नहीं उठाए जा सकते हैं।' 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.