Tuesday, Jan 18, 2022
-->
new corona strain in india symptoms found in 20 people returned from britain pragnt

भारत में कोरोना का नया स्ट्रेन, ब्रिटेन से लौटे 20 लोगों में मिले लक्षण

  • Updated on 12/30/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर में जहां एक तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं दूसरी तरफ ब्रिटेन (Britain) में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन (Corona New Strain) ने देशवासियों की चिंता बढ़ा दी है। इससे भी ज्यादा परेशान होने की बात यह है कि आए दिन भारत में कोरोना का नया स्ट्रेन पैर पसारता हुआ दिख रहा है। खबर है कि अब यूनाइटेड किंगडम से लौटे 20 यात्रियों में नए स्ट्रेन की पुष्टि हो गई है। इससे पहले भी देश के अलग-अलग हिस्सों से 6 ऐसे ही मामले सामने आए थे।

‘ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने का भारत पर असर’

कुल मामले बढ़कर हुए 20
ब्रिटेन से भारत लौटे कुल 20 लोग सार्स-सीओवी-2 के नए प्रकार (स्ट्रेन) से संक्रमित पाए गए हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि इन 20 लोगों में मंगलवार को संक्रमित पाए गए छह लोग भी शामिल है। मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि ब्रिटेन से आए छह लोग वायरस के नए प्रकार से संक्रमित पाए गए हैं। इन सभी लोगों को चिह्नित स्वास्थ्य सेवा केन्द्रों में अलग पृथक-वास कक्षों में रखा है और उनके सम्पर्क में आए लोगों को भी पृथक-वास में रखा गया है।

कोविड के नए स्वरुप को लेकर वैज्ञानिकों ने कहा- घबराने की जरुरत नहीं

भारत के इन हिस्सों में मिले केस
मंत्रालय ने बताया कि राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केन्द्र (एनसीडीसी) में जांच के दौरान आठ मामले, कल्याणी (कोलकाता के पास) स्थित 'नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स' (एनआईबीएमजी) में एक मामला, पुणे के राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) में एक मामला, बेंगलुरू के राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य एवं स्नायु विज्ञान अस्पताल (निमहांस) में सात मामले, हैदराबाद के कोशिकीय एवं आणविक जीव विज्ञान केंद्र (सीसीएमबी) में दो मामले और दिल्ली के जिनोमिकी और समवेत जीव विज्ञान संस्थान (आईजीआईबी) में एक मामला सामने आया। 

Delhi Corona Bulletin: काबू में कोरोना! 24 घंटे में 703 नए केस, 28 ने गंवाई जान

दो और व्यक्ति दिल्ली में पाए गए संक्रमित
ब्रिटेन से लौटे और कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों के संपर्क में आने से दिल्ली (Delhi) में दो और व्यक्तियों में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि इसके साथ कुल संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 33 हो गई है। इसमें ब्रिटेन से संक्रमित लौटे और उनके संपर्क में आने से बीमार हुए लोग शामिल हैं। उन्होंने बताया, 'सभी 33 लोगों को एलएनजेपी अस्पताल के विशेष केंद्र में भर्ती कराया गया है और वे स्थिर हैं। उनके नमूनों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है ताकि यह पता लगाया जा सके कि उनमें ब्रिटेन में सामना आया वायरस का नया प्रकार है या नहीं।'

वहीं जानकारों का कहना है कि यह स्ट्रेन पहले के वायरस के मुकाबले अधिक खतरनाक और जानलेवा हो सकता है। कोरोना म्यूटेंट प्रवर्ति का है जो अपने आपको अधिक शक्तिशाली और खतरनाक रूप में बदलता रहता है।

कोरोना के कारण बंद हो रहा मैडम तुषाद संग्राहलय! मोम के पुतले अब कहां रखें जाएंगे?

स्ट्रेन अधिक खतरनाक
बताया जा रहा है कि ब्रिटेन में मिला यह स्ट्रेन अधिक खतरनाक हो सकता है और इसी के कारण ब्रिटेन के कई शहरों में लॉकडाउन लगाना पड़ा है। यह 70 फीसदी ज्यादा तेजी से फैलता है। इस वायरस का केस जर्मनी में भी पाया गया है। भारत में भी मिले इस स्ट्रेन के मरीजों को अलग क्वारंटीन किया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि जिन 6 लोगों में यह नया स्ट्रेन पाया गया है उनमें से तीन बेंगलुरु, दो हैदराबाद और एक पुणे में मिले हैं। बताते चलें कि बीते एक महीने में यूके से 33 हजार के करीब लोग भारत आए हैं। 

गुजरात में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास, लाभार्थियों को दिया गया ‘डमी’ टीका

भारत में ड्राई रन शुरू  
इनमें से 114 लोगों में कोरोना का संक्रमण मिला है। बाकी लोगों की जानकारी ली जा रही है और इसके साथ ही 23 दिसंबर से 31 दिसंबर तक यूके से आने वाली फ्लाइट पर रोक लगा दी गई है। इसी सबको देखते हुए टीकाकरण शुरू होने वाला है। इससे पहले भारत में कोरोना का ड्राइ रन भी शुरू हो गया है। इसके लिए पंजाब, असम, आंध्र प्रदेश और गुजरात के दो जिलों में पांच जगहों पर यह ड्राई रन किया जाएगा। ड्राइ रन में कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज और परिवहन व्यवस्था, भीड़ का प्रबंधन, सोशल डिस्टेंस जैसे अहम मुद्दे शामिल होंगे।

बताया जा रहा है कि ड्राई रन का मकसद वैक्सिनेशन से पहले सारी तैयारियों का जायजा लेने, कमी में सुधार करना है। साथ ही साथ प्लैनिंग, इंप्लीमेंटेशन या रिपोर्टिंग मैकेनिज्म को देखना और उसमें सुधार करना भी है। 

साल 2021 में मास्क की तरह वैक्सीन पासपोर्ट भी दिखाना हो सकता है जरूरी? जानिए क्या है ये Passport

भारत में कोरोना की स्थिति
देशभर में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। भारत में कोरोना से 1,02,45,326 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 1,48,475 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि, राहत की बात ये है कि 98,33,339 इस वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या सक्रिय मामलों की संख्या से अधिक है। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 2,60,678  है।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.