Wednesday, Sep 28, 2022
-->
new-parking-policy-stuck-in-the-battle-of-delhi-government-and-lg-now-

अब दिल्ली सरकार और एलजी की लड़ाई में अटकी नई पार्किंग पॉलिसी!

  • Updated on 9/2/2018

नई दिल्ली/ताहिर सिद्दीकी। राजधानी की सड़कों पर तेजी से बढ़ रही वाहनों की भीड़ पर लगाम लगाने के लिए जनवरी से लागू होने वाली नई पार्किंग पॉलिसी अधर में लटक गई है। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने सरकार के पक्ष में हाल में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए इस पर उपराज्यपाल अनिल बैजल से मंजूरी नहीं लेने के निर्देश दिए हैं। 

ऐसे में परिवहन विभाग नई पार्किंग पॉलिसी को अधिूसचित नहीं करने के मूड में है। बता दें कि पॉलिसी पूरी तरह तैयार है,लेकिन अधिसूचित नहीं होने की वजह से लागू नहीं हो पा रही। सूत्र बताते हैं कि नई पार्किंग पॉलिसी पर उपराज्यापाल से मंजूरी नहीं लेने के परिवहन मंत्री के निर्देश पर परिवहन विभाग इस पर फाइल कानून विभाग के पास भेजकर राय लेना चाहता है। 

लेकिन परिवहन के साथ कानून विभाग भी संभाल रहे कैलाश गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि फाइल उनकी अनुमति के बगैर किसी भी विभाग में नहीं जाएगी। ऐसे में पार्किंग पॉलिसी परिवहन विभाग में ही अटकी हुई है। एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि मौजूदा हालात में नई पॉर्किंग पॉलिसी को लागू करना असंभव हो गया है। 

नींद की गोलियां खिलाकर प्रेमी को यमुना में फेंका, मौत

बता दें कि परिवहन विभाग ने पार्किंग नीति को मंजूरी के लिए कुछ माह पहले परिवहन मंत्री के पास भेजा था। मंत्री ने पॉलिसी को अपनी स्वीकृति देकर फाइल को एक सप्ताह पहले परिवहन सचिव व आयुक्त के पास वापस भेज दिया था। मंत्री ने कहा है कि परिवहन सचिव व आयुक्त पॉलिसी को अधिसूचित कर दें। लेकिन विभाग ने ऐसा करने से इनकार कर दिया है। विभाग का मानना है कि उपराज्यपाल की अनुमति जरूरी है। 

अगर नई पार्किंग पॉलिसी लागू हुई तो लम्बे समय तक वाहनों को पार्क करने वालों को ज्यादा धनराशि देनी होगी। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक 3 घंटे तक वाहनों को पार्क करने पर पार्किंग की दरों को सामान्य रखा गया है। 3 घंटे के लिए जहां चार पहिया वाहनों से प्रति घंटा 20 रुपए और 2 पहिया वाहनों से 10 रुपए प्रति घंटा के हिसाब से वसूलने का प्रावधान किया गया है। 

पीएम मोदी बोले- नामदारों के इशारे पर बांटे गए कर्ज की एक-एक पाई वसूलेंगे

लेकिन वाहनों के ज्यादा इस्तेमाल को हतोत्साहित करने के लिए 3 घंटे की पार्किंग के बाद चार पहिया वाहनों से प्रति घंटा 50 रुपए और 2 पहिया वाहनों से 25 रुपए प्रति घंटा वसूलने का प्रावधान किया गया है। बता दें कि दिल्ली में पार्किंग एक बड़ी समस्या है। ऐसे में दिल्ली के लिए नई पार्किंग पॉलिसी बहुत मायने रखती है। 

इस नीति में आवासीय क्षेत्रों के साथ बाजारों पर विशेष रूप से फोकस किया गया है। इस नीति में प्रावधान किया गया है कि बाजारों में स्ट्रीट पार्किंग बनाई जाएंगी जहां ग्राहकों की गाड़ियां खड़ी होंगी।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.