Wednesday, Dec 01, 2021
-->
new-press-building-will-be-ready-with-modern-facilities-on-minto-road-minister-visited

मिंटो रोड पर आधुनिक सुविधा के साथ तैयार होगी नई प्रेस बिल्डिंग, मंत्री ने किया दौरा

  • Updated on 9/23/2021

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आने वाले दिनों में मिंटो रोड की पहचान एक आधुनिक सरकारी पिं्रटिंग प्रेस के भवन के तौर पर भी होगी। लगभग 238 करोड़ रुपये की निर्माण लागत से इसे तैयार किया जा रहा है। वीरवार को केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय के राज्यमंत्री कौशल किशोर ने अधिकारियों के साथ इसके निर्माण कार्य का निरीक्षण किया।

जल्द ही कई सरकारी कार्यालय अस्थाई तौर पर होंगे स्थानांतरित
बताया जाता है कि जल्द ही रायसीना रोड पर स्थित कई सरकारी कार्यालय भी इस बिल्डिंग में शिफ्ट किये जा सकते हैं। मंत्री ने अपने निरीक्षण के दौरान निर्माण कार्य पर प्रसन्नता जताई। साथ ही निर्माण में जुटे अधिकारियों से जल्द से जल्द निर्धारित समय में कार्य पूरा करने को भी कहा। 

प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट को जल्दी पूरा करने में मदद करें

कौशल किशोर ने निरीक्षण करते हुए प्रिंटिंग के सभी कर्मचारियों और अधिकारियों के काम की तारीफ  करते हुए इस बात के लिए प्रोत्साहित भी किया कि अच्छा कार्य कर के प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट को जल्दी पूरा करने में मदद करें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जल्द ही आधुनिक मशीनों को मंगवाया जाएगा। दरअसल सरकारी दस्तावेजों की प्रिंटिंग से जुड़े अधिकांश कार्य मिंटो रोड स्थित प्रिंटिंग प्रेस में अर्से से होते रहे हैं।

सिविल डिफेंस कर्मियों के मामले में एलजी से भाजपा ने की जांच की मांग

अधिकारियों का कहना है कि लंबे समय से मशीनों के आधुनिकीकरण को लेकर मांग बनी हुई थी। साथ ही पुराने भवन की स्थिति को देखते हुए उसका कायाकल्प भी आवश्यक था। यही वजह है कि यहां 100 करोड़ रुपये की मशीनों को लगाया जाएगा। अधिकारी के मुताबिक निर्माण व मशीनों सहित मिंटो रोड प्रेस में 338 करोड़ रुपये खर्च आएगा। 
जानकारों का कहना है कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत रायसीना रोड पर बने सरकारी भवनों के कायाकल्प के दौरान कई कार्यालयों के कर्मियों को अस्थाई तौर पर इसी भवन में काम करने के लिए भेजा जा सकता है। इसमें कृषि भवन, निर्माण भवन आदि शामिल हो सकते हैं। 

नई प्रेस बिल्डिंग लगभग तैयार हो चुकी है 

मंत्रालय के अधिकारी के अनुसार नई प्रेस बिल्डिंग लगभग तैयार हो चुकी है और पुरानी प्रिंटिंग मशीनों से छपाई कार्य भी शुरू किया जा चुका है। निर्माण निरीक्षण के दौरान मंत्रालय की संयुक्त सचिव एस.के राम, व निदेशक मुद्रण जी.पी.सरकार आदि शामिल रहे।  उल्लेखनीय है कि देश भर की 17 प्रिंटिंग प्रेस को विलय करके मोदी सरकार द्वारा 5 प्रेस किए गए हैं, जिनमें तीन दिल्ली में मिन्टो रोड , राष्ट्रपति भवन एवं रिंग रोड मायापुरी में स्थित है इसके अलावा एक नासिक में और एक कोलकाता में है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.