Wednesday, Nov 20, 2019
new-scooty-of-65000-rupees-one-lakh-challan-driver-upset

65,000 की नई स्कूटी का एक लाख रुपये का चालान कटा, चालक परेशान

  • Updated on 9/21/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नए मोटर व्हीकल एक्ट ने पूरे देशभर में हड़कंप मचा दिया है। ताजा मामला उड़ीसा से है, जहां शो रुम के बाहर 65,000 रुपये की नए स्कूटी बाहर निकलते ही पुलिस द्वारा एक लाख रुपये का चालान काट दिया गया है।

चिन्मयानंद मुश्किल में, वकीलों की हड़ताल में फंसी जमानत याचिका

मोदी सरकार द्वारा देशभर में नए मोटर व्हीकल अधिनियम लागू होते ही आए दिन रोज बड़े विचित्र किस्म के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला उड़ीसा के कटक से सामने आया है। जहां ब्रांड-न्यू होंडा एक्टिवा को पुलिस ने सीज कर दिया और एक्टिवा के मालिक से पूछताछ के बाद डीलरशिप पर सीधा 1 लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया।

motor vehicle act

दरअसल, होंडा एक्टिवा को भुवनेश्वर से 28 अगस्त को खरीदा गया था। 12 सितंबर को यही स्कूटर कटक के एक चेक पोस्ट पर पकड़ी गई थी। पुलिस द्वारा इस स्कूटी पर रजिस्ट्रेशन प्लेट ने पाए जाने पर जब्त किया गया था।

कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों से प्रतिबंध हटा, लेकिन हालात पूरी तरह सामान्य नहीं

ऐसी स्थिति में RTO ने डीलर पर रजिस्ट्रेशन प्लेट न लगाने पर करीब 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया। जुर्माना नए मोटर व्हीकल अधिनियम के अनुसार लगाया गया था। इसके अलावा RTO ने भुवनेश्वर के अधिकारियों को डीलरशिप का ट्रेड लाइसेंस रद्द करने को कहा कि उन्होंने बिना किसी डॉक्यूमेंट्स के स्कूटर कैसे डिलीवर किया।

कॉलेजियम ने फैसला बदला, त्रिपुरा हाई कोर्ट के लिए न्यायमूर्ति कुरैशी के नाम की सिफारिश

बता दें, भारत में सभी नए वाहनों को रजिस्ट्रेशन नंबर, इंश्योरेंस और पॉल्यूशन सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है। जिसे ग्राहक को वाहन सौंपने से पहले डीलरशिप द्वारा दिया जाना होता है।                                                                       

comments

.
.
.
.
.