Sunday, Sep 26, 2021
-->
ngt-decided-to-ban-firecrackers-safe-sought-answers-from-these-states-prshnt

पटाखे बैन करने को लेकर NGT ने फैसला किया सुरक्षित, इन राज्यों से मांगा जवाब

  • Updated on 11/5/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली में सहित कई राज्यों में लगातार प्रदूषण (Pollution) का स्तर बढ़ रहा है। ऐसे में आज दिल्ली एनसीआर (Delhi-NCR) समेत 18 राज्यों में पटाखे बैन करने को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) में सुनवाई हुई। सुनवाई के बाद एनजीटी ने अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है। दरअसल मंगलवार को एनजीटी ने याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली, यूपी, राजस्थान और हरियाणा को अगली सुनवाई के लिए नोटिस जारी किए थे। एनजीटी ने फैसला सुरक्षित रखते हुए सभी राज्यों से इस पर शुक्रवार शाम 4 बजे तक जवाब मांगा है। 

वहीं दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने भी इस मामले पर कल तक का वक्त मांगा है। साथ ही कहा है कि आज होने वाली रिव्यू मीटिंग की रिपोर्ट भी एनजीटी में रखेंगे।

योगी के देश के बाहर करने वाले बयान पर नीतीश का करारा जवाब, बोले- किसी में हिम्मत नहीं

इन राज्यों में गिरी AQI
बता दें कि अब इस सुनवाई में 14 और राज्य शामिल किए हैं जहां हवा की गुणवत्ता गिरी है। आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, नागालैंड, तमिलनाडु, तेलंगाना, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मेघालय, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में एक्यूआई गिरी है।

बंगाल दौरे पर अमित शाह, दलित और मटुआ परिवार के साथ खाएंगे खाना, TMC ने बताया ‘पॉलिटिकल स्टंट’

दिल्ली में समान्य पटाखों एक लाख जुर्माना
दरअसल वायु प्रदूषण के हालात को देखते हुए कई राज्यों में पटाखे बैन करने की मांग उठी है, इसी के चलते ओडिशा और राजस्थान की सरकारें पहले ही पटाखों की खरीद-फरोख्त पर पाबंदी लगाने को लेकर अधिसूचना जारी कर चुकी हैं। दिल्ली सरकार ग्रीन पटाखों को छोड़कर सामान्य पटाखों पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगा चुकी हैं। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें....

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.