Thursday, Aug 16, 2018

एनएच 74 घोटाला: एसआईटी को मिले अहम सुराग, चार्जशीट रोकी

  • Updated on 8/10/2018

देहरादून/ब्यूरो। तीन सौ करोड़ से भी अधिक के एनएच 74 घोटाले में एसआईटी के हाथ कुछ नये व अहम सबूत लगे हैं। इनकी विवेचना की जा रही है। इस कारण कोर्ट में दाखिल की जाने वाली चार्जशीट को फिलहाल रोक लिया गया है।

घोटाले में नियम विरुद्ध मुआवजा लेने के आरोपी किच्छा व बाजपुर के 50 किसानों और दो पीपीएस अफसरों के खिलाफ पुलिस की तफ्तीश पूरी हो चुकी है। इनमें चार वो किसान भी शामिल हैं जिन्हें पुलिस ने सरकारी गवाह बना लिया था। शर्त यह थी कि वो मुआवजे के रूप में ली गयी रकम सरकारी खजाने में जमा करा देंगे।

सितारगंज के जेल अधीक्षक समेत तीन पर बलात्कार का मुकदमा

इसके लिए एसआईटी की ओर से एक बैंक एकाउंट भी खोला गया। परंत वे किसान शर्त से मुकर गये और मुआवजे की रकम वापस नहीं की।इन चार किसानों को भी आरोपी बना दिया गया है।इसके अतिरिक्त समय पर मुआवजे की रकम जमा नहीं कराने वाले 11 अन्य किसानों को भी आरोपी बनाया गया है। इन्हें मिलाकर कुल 50 किसानों के खिलाफ तफ्तीश पूरी हो चुकी है। इन सभी के खिलाफ गुरुवार या शुक्रवार को अदालत में चार्जशीट दी जानी थी।

सूत्रों ने दावा किया है कि एसआईटी के हाथ कुछ और भी ठोस सबूत लगे हैं। ये सबूत आरोपी बनाये गये दो पीपीएस अफसरों के खिलाफ है। इन सबूतों का अध्ययन किया जा रहा है। इसके साथ ही पुलिस को कुछ अन्य आरोपियों का भी सुराग मिल गया है। इन सभी कड़ियों को जोड़ने के बाद ही अब चार्जशीट दाखिल की जाएगी। एसआईटी प्रभारी सदानंद दाते ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि कुछ नये तथ् आये हैं। उन तथ्यों का अध्ययन किया जा रहा है।

Exclusive- डाक कांवड़ के दौरान रातों रात बनी अवैध पार्किंग, किया लाखों का खेल

नौकरशाहों के खिलाफ 18 के बाद कार्रवाई

एनएच 74 घोटाले की जद में आए दो आईएएस अफसरों चंद्रेश यादव और पंकज पांडेय के खिलाफ 18 अगस्त के बाद कार्रवाई होगी। बहरहाल एसआईटी उनसे पूछताछ की तैयारी कर रही है।दोनों अधिकारियों ने 17 अगस्त तक अवकाश पर होने का हवाला देते हुए एसआईटी को इंतजार करने के लिए खत लिखा है।

इस खत के जवाब में एसआईटी ने दोनों अफसरों को 12 अगस्त तक हाजिर होने को कहा है। पर एसआईटी इसे प्रतिष्ठा का सवाल नहीं बनाएगी। दोनों अफसरों के आने का इंतजार होगा।यदि वह 12 को नहीं आते हैं तो 17 अगस्त तक उनका इंतजार किया जाएगा। उसके बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी।

 
 
 
 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.