Wednesday, Apr 14, 2021
-->
night-curfew-imposed-in-punjab-from-9-am-to-5-pm-till-30-april-prshnt

पंजाब में लगा नाइट कर्फ्यू, 30 अप्रैल तक रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा लागू

  • Updated on 4/7/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना (Coronavirus) के दूसरे लहर ने जोर पकड़ लिया है, बीते 24 घंटे में 1.15 लाख से अधिक नए मरीज मिले हैं और 630 से अधिक की मौत हो गई है। ऐसे में राजधानी दिल्ली, गुजरात सहित कई क्षेत्रों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। अब संक्रमण को बढ़ता देख पंजाब सरकार ने राज्य में 30 अप्रैल तक के लिए नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान कर दिया है। ये नाइट कर्फ्यू रात को 9 बजे से शुरू होगा और सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा। कर्फ्यू प्रदेश के सभी जिलों में लागू होगा। बता दें कि इससे पहले नाइट कर्फ्यू प्रदेश के 12 जिलों में ही 10 अप्रैल तक लागू था, लेकिन अब इस पूरे प्रदेश में लगाने का ऐलान किया गया है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए बुधवार को सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में बैठक हुई, जिसके बाद नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया गया था। 

कोरोना की चपेट में आए केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, हुए होम आइसोलेट

गुजरात हाई कोर्ट निर्देश पर राज्य में लगा नाइट कर्फ्यू
बता दें कि इससे पहले कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच गुजरात हाई कोर्ट के मंगलवार को दिए गए नाइट कर्फ्यू के सुझाव के बाद राज्य सरकार ने 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। साथ ही, शादी समारोह में आने वाले गेस्ट्स की संख्या को भी सीमित किया गया है। सरकारी दफ्तर भी 30 अप्रैल तक शनिवार के दिन बंद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने बताया कि, कल से 20 शहरों में रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया जा रहा है।

वहीं शादी समारोह में 100 लोगों के ही शामिल होने की अनुमति दी गई है। इसके अलाव ग्रैंड इवेंट्स को 30 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया है। सरकारी दफ्तर भी 30 अप्रैल तक शनिवार के दिन बंद रहेंगे।

दरअसल हाई कोर्ट ने आज दिन में कहा था कि राज्य में कोरोना के कारण स्थिति नियंत्रण से बाहर हो रही है ऐसे में कोर्ट ने सुझाव दिया था कि वायरस से संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए तीन से चार दिनों के लिए कर्फ्यू या लॉकडाउन लागू किया जा सकता है। इसके बाद ही राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है।

लापता कोबरा कमांडो की पहली तस्वीर आई सामने, रिहाई के लिए रखी ये शर्त

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा बढ़ रहे मामले
बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को लेकर मंगलवार को सचेत करते हुए कहा कि आने वाले चार हफ्ते देश के लिए काफी जोखिम भरे हैं। मंत्रालय का अनुमान है कि अप्रैल के बाद हालात में कुछ सुधार संभव है। फिलहाल, देश के 10 जिलों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते हुए दिख रहे हैं। इन जिलों में सात जिले महाराष्ट्र, एक-एक जिला पंजाब, दिल्ली और छत्तीसगढ़ से शामिल हैं।

कोरोना को लेकर मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय और नीति आयोग की हुई संयुक्त प्रेस ब्रीफिंग में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि मौजूदा समय में महाराष्ट्र, पंजाब और छत्तीसगढ़ के हालात चिंताजनक हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में स्थिति लगातार खराब होती जा रही है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.