Thursday, Apr 09, 2020
nirbhaya case patiala house court sessions judge transfer question raises by opposition

निर्भया मामले में डेथ वारंट जारी करने वाले जज का ट्रांसफर, उठे सवाल

  • Updated on 1/23/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली में 2012 के निर्भया सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले (Nirbhaya case) में फांसी की सजा पाये चार दोषियों के खिलाफ हाल ही में मृत्यु वारंट जारी करने वाले सत्र न्यायाधीश का स्थानांतरण कर दिया गया है। अब इस ट्रांसफर को लेकर विपक्ष की ओर से सवाल उठने भी शुरू हो गए हैं।

‘राष्ट्रीय बेरोजगार रजिस्टर’ की मांग को लेकर अभियान चलाएगी कांग्रेस

दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) के रजिस्ट्रार जनरल की ओर से जिला न्यायाधीश, पटियाला हाउस कोर्ट को लिखे गए एक पत्र में कहा गया है कि अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार अरोड़ा का स्थानांतरण एक वर्ष के लिए प्रतिनियुक्ति के आधार पर उच्चतम न्यायालय में अतिरिक्त रजिस्ट्रार के पद पर किया गया है। 

कन्हैया कुमार ने #CAA को लेकर अमित शाह की चुनौती पर किया कटाक्ष

अरोड़ा स्थानांतरण से पहले निर्भया बलात्कार मामले के अलावा अन्य मामलों की सुनवायी कर रहे थे। मामले को जल्द ही किसी अन्य न्यायाधीश को सौंपे जाने की संभावना है। चारों दोषियों को फांसी एक फरवरी को सुबह छह बजे होनी है। 

#BJP प्रत्याशी कपिल मिश्रा को लेकर #AAP ने लगाई चुनाव आयोग से गुहार

comments

.
.
.
.
.