Friday, Apr 19, 2019

सीतारमण ने Pak पर उठाए सवाल, पत्रकारों को बालाकोट ले जाने में क्यों लगे 40 दिन

  • Updated on 4/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बालकोट  एयर स्ट्राइक (Balakot Air Strike) के 43 दिन बाद पाकिस्तान (Pakistan) द्वारा अंतर्राष्ट्रीय मीडिया (International Media) और विदेशी राजनायिकों (Foreign Diplomats) को मदरसे (Madarsa) ले जाने पर भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण (Defense Minister Nirmala Sitharaman) ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि जिस मदरसे में पाकिस्तान, मीडिया को ले गया वहां कभी हमला (Attack) किया ही नहीं गया।

योगी-मायावती पर आचार सहिंता के उल्लंघन मामले में चुनाव आयोग सख्त, आज देना होगा जवाब

सीतारमण ने ये बात मीडिया से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि सबसे पहले तो उन्हें चुनिंदा पत्रकारों को लेने के लिए 40 दिनों की जरूरत पड़ गई। उन्होंने आगे कहा कि वे उन्हें जिस मदरसे में ले गए उस पर कभी हमला नहीं किया गया, उसे कभी छुआ भी नहीं गया और ये कभी भी किसी योजना का हिस्सा नहीं था।

लोकसभा चुनाव को लेकर 1 महीने में हुए 4.56 करोड़ Tweet, राष्ट्रीय सुरक्षा पर सबसे अधिक बात

इसके अलावा वो उन्हें एक निर्देशित दौरे पर ले गए होंगे। जिस स्थान पर आत्मघाती हमलावरों (Suicide Bombers) को प्रशिक्षित (Trained) किया गया वो जगह जाने की हालत में नहीं है। उन्होंने केवल बाहर से दिखाया गया है, अंदर क्या हुआ है- इन सवालों के जवाब नहीं दिए गए हैं। तो कोई बात नहीं। वो उस पर सफेदी कर कितने भी लोगों को वहां ले जा सकते हैं।

नमो टीवी पर चुनाव आयोग हुआ सख्त, राजनीतिक सामग्री हाटने के दिए निर्देश

बता दें कि पुलवामा हमले (Pulwana Attack) के 13 दिन बाद भारतीय वायुसेना (IAF) द्वारा बालकोट में एयर स्ट्राइक की गई। जिसमें सेना ने पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों को तबाह करने का दावा किया है। 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.