Wednesday, Jan 26, 2022
-->
nisarga cyclone maharashtra cm uddhav thackeray visit raigad district pragnt

निसर्ग तूफान के बाद उद्धव ठाकरे ने किया रायगढ़ का दौरा, आपातकालीन राहत पैकेज की घोषणा

  • Updated on 6/5/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) के साथ ही महाराष्ट्र (Maharashtra) में आए 'निसर्ग' (Nisarga) तूफान ने राज्य में काफी तबाही मचाई। इस चक्रवात तूफान की चपेट में आने से मरने वालों की संख्या में इजाफा हुआ अब ये संख्या 6 हो गई है। ऐसे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री लगातार इस तूफान से होने वाले नुकसान का जायजा ले रहे हैं।

आइए प्रकृति को बचानें का करें संकल्प, ताकि दुनिया रहें सुरक्षित

100 करोड़ रुपए का आपात फंड
इसी सिलसिले में उद्धव ठाकरे ने आज रायगढ़ (Raigad) जिले का दौरा किया क्योंकि इस चक्रवाती तूफान ने अलीबाग समेत कई जिलों को काफी प्रभावित किया है। इस दौरान सीएम ठाकरे ने चक्रवात निसर्ग से प्रभावित रायगढ़ जिले के लिए 100 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता की घोषणा की।

भारत में कोरोना संक्रमण का बढ़ता आंकड़ा, महज 4 दिन में 900 लोगों की हुई मौत

सीएम ने दिए निर्देश
बता दें कि रायगढ़ जिले में बुधवार को चक्रवात आया था, जिस दौरान तेज हवाओं के साथ बारिश ने बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाया। ठाकरे ने मुंबई से करीब 110 किमी दूर स्थित रायगढ़ जिले के अलीबाग तालुका के दौरे पर यह घोषणा की। उन्होंने स्थिति का जायजा लेने के लिए इलाके का दौरा किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने तटीय जिले में चक्रवात से हुए नुकसान का शीघ्रता से आकलन करने के लिए निर्देश दिए हैं।

Corona संक्रमण के खतरे को लेकर मुस्लिम समाज में भी आई हैं अब जागरुकता लेकिन...

आदित्य ठाकरे के साथ जिले का लिया जायजा
उन्होंने कहा, '100 करोड़ रुपए की सहायता आपात राहत के लिए दी जाएगी। यह महज एक शुरूआत है। इसे पैकेज ना कहें।' ठाकरे ने कहा कि बारिश के चलते कोरोना वायरस से खतरा बढ़ सकता है। उन्होंने कहा, 'हमें बारिश से जुड़ी बीमारियां भी रोकनी होंगी। हम किसी को असहाय नहीं छोड़ सकते। बिजली आपूर्ति, संचार सेवाएं बहाल करवाना और मकानों की मरम्मत करवाना हमारी प्राथमिकता है।' ठाकरे मुंबई से अलीबाग पहुंचे। उनके साथ मुंबई के उपनगरीय इलाकों और शहर के प्रभारी मंत्री आदित्य ठाकरे और असलम शेख भी थे। रायगढ़ की प्रभारी मंत्री अदिति तटकरे और जिले की कलेक्टर निधि चौधरी ने मुख्यमंत्री को चक्रवात बाद की स्थिति से अवगत कराया।

बॉलीवुड सेलेब्स ने 'निसर्ग तूफान' को लेकर दिया ऐसा रिएक्शन, माधुरी ने कहा- मुंबईकर बहुत टफ हैं...

मुआवजे का किया ऐलान
आपको बता दें कि इस चक्रवाती तूफान के कारण मारे गए लोगों के लिए राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने मुआवजे का ऐलान किया है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक मदद की जाएगी। उन्होंने दो दिन में पंचनामा तैयार करने को भी कहा ताकि किसानों और अन्य लोगों को मदद पहंचाई जा सके। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में ये भी कहा कि इस चक्रवात की चपेट में राज्य के 14 जिले आए हैं जहां पर कई घरों को काफी नुकसान भी पहुंचा है। ऐसे में इन इलाकों में तत्काल प्रभाव से प्रशासन को राहत साम्रगी पहुंचाने को कहा गया है।

कोरोना संकट में GST बकाया मिलने से क्या राज्यों को मिलेगी राहत!

लोगों को भोजन मुहैया कराया जाए- CM
इससे पहले सीएम ठाकरे ने गुरुवार को अधिकारियों को रायगढ़ जिले में चक्रवाती तूफान निसर्ग के कारण हुए नुकसान का पंचनामा या निरीक्षण रिपोर्ट दो दिन के भीतर पूरा करने का निर्देश दिया। मुंबई (Mumbai) से सटे तटीय जिले में तूफान के कारण हुए नुकसान का आकलन करने के लिए आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंस में ठाकरे ने बिजली आपूर्ति भी तत्काल बहाल करने का निर्देश दिया। ठाकरे ने कहा कि कुछ गांवों में खाना पकाने के लिए पानी नहीं होने के कारण लोगों को भोजन मुहैया कराया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार महाराष्ट्र में तूफान से जुड़ी घटनाओं में छह लोगों की मौत हुई और 16 घायल हो गए, वहीं छह मवेशी भी मारे गए। इसमें बताया गया कि 5,033 हेक्टेयर जमीन पर फैली फसलें, पेड़ और मकान भी तबाह हो गए।

इस चक्रवात निसर्ग ने बुधवार को महाराष्ट्र में 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली लहरों के साथ दस्तक दी थी। हवा की रफ्तार इतनी तेजी थी कि कई इलकों में पेड़ गिर गए। जिसके कारण वाहनों की आवाजाही पर गहरा असर पड़ा।

महाराष्ट्र पहुंचा Nisarga, शुरू हुई ...

रक्षा मंत्रालय में कोरोना ने दी दस्तक! रक्षा सचिव में दिखे वायरस के लक्षण

गुजरात में निसर्ग तूफान का असर
बता दें कि गुजरात (Gujarat) में तो निसर्ग तूफान का असर दिखा। अहमदाबाद (Ahmedabad) में बीती रात जमकर तेज बारिश हुई, साथ ही गुजरात के नवसारी इलाके के आसपास समंदर में ऊंची-ऊंची लहरे उठी। प्रशासन ने इसके चलते लोगों को समुद्र तटों से दूर रहने का निर्देश दिया थे।

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

comments

.
.
.
.
.