Monday, Sep 20, 2021
-->
nitish kumar bihar jdu demand probe in pegasus spy case flag against modi bjp govt rkdsnt

पेगासस मामले पर मोदी सरकार के खिलाफ अब नीतीश कुमार ने झंडा किया बुलंद!

  • Updated on 8/2/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पेगासस जासूसी मामले पर केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी झंडा बुलंद कर दिया है। विपक्ष इस मसले को संसद और संसद के बाहर जोर-शोर से उठा रहा है। खास बात यह है कि एनडीए गठजोड़ में जदयू पहला दल हो जो पेगासस मुद्दे पर जांच की मांग कर रहा है। बता दें कि कल ही नीतीश ने आईएनएलडी के नेता ओम प्रकाश चौटाला से मुलाकात की थी। 

फैजाबाद के बाद योगी सरकार बदलेगी फिरोजाबाद का नाम, प्रस्ताव पारित

 

पेगासस जासूसी के आरोपों की जांच की सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने तय की तारीख

नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि पेगासस मामले की निश्चित तौर पर जांच की जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम टेलीफोन टैपिंग के मामले कई दिनों से सुन रहे हैं और ऐसे में जांच होनी ही चाहिए। बता दें कि मोदी सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने विपक्षी नेताओं को नाश्ते पर बुलाया है। 

हरियाणा में भाजपा की ‘तिरंगा यात्रा’ किसानों को भड़काने के लिए : संयुक्त किसान मोर्चा 

पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा की मांग कर रहे विपक्षी दलों के हंगामे के कारण संसद में बने गतिरोध के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को विपक्ष के नेताओं को नाश्ते पर आमंत्रित किया है। सूत्रों के मुताबिक, राहुल गांधी ने कांस्टीट्यूशन क्लब में सबुह 9.45 बजे विपक्षी नेताओं को नाश्ते पर आमंत्रित किया है ताकि पेगासस मामले पर सरकार को आगे घेरने और दबाव बनाने की रणनीति पर चर्चा की जा सके। सूत्रों ने बताया कि इसमें द्रमुक, शिवसेना, राजद, वाम दलों, तृणमूल कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। इसमें दोनों सदनों के विपक्षी दलों के नेता और सांसद शामिल हो सकते हैं। 

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने PSO पर लगाया उत्पीड़न का आरोप, कोर्ट से लगाई गुहार

राहुल गांधी ने विपक्षी नेताओं को ऐसे समय नाश्ते पर बुलाया है जब पेगासस और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर पिछले कई दिनों से संसद के दोनों सदनों में गतिरोध बना हुआ है। उन्नीस जुलाई से मॉनसून सत्र आरंभ हुआ था, लेकिन अब तक दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही है। विपक्षी दलों का कहना है कि पेगासस जासूसी मुद्दे पर पहले चर्चा कराने के लिए सरकार के तैयार होने के बाद ही संसद में गतिरोध खत्म होगा। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए शुक्रवार को लोकसभा में कहा कि यह कोई मुद्दा ही नहीं है।
 

comments

.
.
.
.
.