Sunday, Jan 19, 2020
north korea launches missile in protest against joint exercises between south korea and america

उत्तर कोरिया ने फिर अमेरिका को दिखाई ताकत, जापान के इलाके में दागीं दो प्रोजेक्टेड मिसाइल

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हाल ही कुछ दिनों पहले उत्तर कोरिया(North Korea) के तानाशाह किम जोंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप(Donald Trump) के बीच मुलाकात हुई थी। इस मुलाकात को पूरी दुनिया ने अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच नए रिश्तों की शुरुआत समझा था, लेकिन एक बार फिर से उत्तर कोरिया के तानाशाह ने मिसाइल परीक्षण करके यह दिखाया कि वह किसी की नहीं सुनने वाला। नार्थ कोरिया ने शनिवार दो कम दूरी की प्रोजेक्टेड मिसाइल का परीक्षण किया। माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया ने यह परीक्षण अमेरिका और दक्षिण कोरिया के संयुक्त युद्धाभ्यास के विरोध में किया है।

J&K: परिसीमन के बाद होंगे विधान सभा चुनाव, SC/ST वर्ग को मिलेगा रिजर्वेशन

उत्तर कोरिया ने यह मिसाइल पूर्वी सागर की तरफ छोड़ी है और यह इलाका जापान(Japan) के नजदीक आता है। इस मिसाइल को उत्तर कोरिया के शहर हमहुंग शहर से छोड़ा गया है। किम ने अपने इस परीक्षण से अमेरिका(America) के सामने अपनी ताकत दिखाने का आधार बनाया है। उत्तर कोरिया ने कहा है कि इस तरह के युद्धाभ्यास से अमेरिका के साथ हुई परमाणु निरस्त्रीकरण की बात खत्म हो सकती है जिसके दूरगामी परिणाम होंगे।

CM खट्टर के बिगड़े बोल, कहा- 'अब हम भी शादी के लिए कश्मीरी लड़की ला सकते हैं'

दक्षिण कोरिया(South Korea) की मिलिट्री ने अपने बयान में इस परीक्षण की पुष्टि की है। वहीं जापान ने उत्तर कोरिया के इस परीक्षण पर खेद जताया है। बता दें कि इससे पहले भी मंगलवार को उत्तर कोरिया ने दो मिसाइलों का परीक्षण किया था। अमेरिका ने अपने बयान में कहा है कि वह उत्तर कोरिया पर लगातार नजर बनाए हुए है और वह इस मुद्दे पर साउथ कोरिया और जापान से भी बात कर रहा है। 

गोली नहीं, मिसाइल नहीं, टमाटर के दाम अब पाकिस्तान के लिए एटम बम से कम नहीं

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह अपना एक अलग रास्ता चुन सकता है अगर अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच युद्धाभ्यास बंद नहीं हुआ । मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि यह अभ्यास ट्रंप और साउथ कोरियाई राष्ट्रपति मून जे इन के समझौते का उल्लंघन है और ऐसा उत्तर कोरिया नहीं चाहता।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी थू-थू करा रहा पाकिस्तान, UN महासचिव ने Pak की बातों का नहीं दिया जवाब

उत्तर कोरिया ने पिछले महींने भी दो कम रेंज की मिसाइलों का पीरक्षण किया था और इसके बाद तनाशाह ने बयान  दिया था कि हमारे मिसाइल परीक्षण अमेरिका और साउथ कोरिया के लिये चेतावनी है। किम ने कहा कि उत्तर कोरिया को कम नहीं आंकना चाहिए। बता दें कि पिछले दो हफ्तों में उत्तर कोरिया ने लगभग 6 से ज्यादा मिसाइल परीक्षण किए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.