Monday, Mar 30, 2020
not only indira gandhi bal thackeray rajiv gandhi and sharad pawar used to meet karim lala

‘इंदिरा गांधी ही नहीं, करीम लाला से बाल ठाकरे, राजीव गांधी और शरद पवार भी मिलते रहते थे’

  • Updated on 1/19/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) से मुलाकात को लेकर माफिया डॉन करीम लाला के पोते सलीम खान ने कहा है कि उनके दादा से बाल ठाकरे, शरद पवार और राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) जैसे राजनीतिक दिग्गज हमेशा मिलते रहते थे। इसमें कोई बड़ी बात नहीं है। लाला के पोते का बयान शिवसेना सांसद संजय राऊत (Sanjay Raut)के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने इंदिरा गांधी के डॉन से मिलने की बात कही थी। इस बयान को लेकर मचे सियासी घमासान के बाद राऊत ने अपनी सफाई भी पेश की थी। 

केरल ने राहुल गांधी को चुनकर विनाशकारी काम किया है : गुहा

उनकी मुलाकात दिल्ली में हुई थी
सलीम ने कहा, ‘‘यह कहना तो गलत है कि इंदिरा गांधी मेरे दादा से मिलने पाइधोनी (दक्षिण मुंबई) आई थीं, लेकिन यह सभी जानते हैं कि उनकी दिल्ली में मुलाकात हुई थी। इसकी तस्वीरें मौजूद हैं।’’ उन्होंने कहा कि करीम लाला तत्कालीन नार्थ वैस्ट फ्रंटियर प्रोविंस (आज पाकिस्तान का खैबर-पख्तूनख्वा) के मुंबई और अन्य जगहों के पठानों के नेता थे और फ्रंटियर गांधी खान अब्दुल गफ्फार खान के करीबी थे। जब कभी समुदाय के लोगों को परेशानी होती तो वे नेताओं की मदद से इसका हल निकालने की कोशिश करते।  सलीम ने भाजपा नेता देंवेद्र फडणवीस के इस बयान को गलत बताया कि कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए अंडरवल्र्ड की मदद लेती थी या पैसे लेती थी। 

कपिल सिब्बल का बड़ा बयान, कहा- संसद से पास कानून को रोक नहीं सकती राज्य सरकार

हाजी मस्तान की फिल्मी सितारों में बहुत मांग थी
उधर, अंडरवल्र्ड छोड़कर राजनीति में शामिल होने वाले हाजी मस्तान के गोद लिए पुत्र सुंदर शेखर ने भी कहा कि हाजी मस्तान की राजनेताओं और फिल्मी सितारों में बहुत मांग थी। शेखर ने कहा, ‘‘उन्होंने (हाजी मस्तान ने) एक राजनीतिक दल का गठन किया था जिसे आज भारतीय माइनॉरिटीज सुरक्षा महासंघ कहा जाता है। मैं अभी इसका अध्यक्ष हूं। रामदास अठावले (इस वक्त केंद्र में मंत्री) और दलित नेता जोगेंद्र कवाडे हमारे घर हमेशा आते रहते थे।’’   
शेखर ने कहा कि हाजी मस्तान और शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे दोस्त थे। उन्होंने कहा कि बाल ठाकरे के अलावा, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, शरद पवार, सुशील कुमार शिंदे और वसंतदादा पाटिल नियमित रूप से हाजी मस्तान से मिलते रहते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.