Monday, May 23, 2022
-->
notification effective implementation emergency measures air pollution: gopal rai rkdsnt

वायु प्रदूषण से निपटने के लिए आपात कदमों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए अधिसूचना जारी : गोपाल राय

  • Updated on 11/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने रविवार को कहा कि वायु प्रदूषण से निपटने के लिए सरकार द्वारा घोषित आपात कदमों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि सभी स्कूल, पुस्तकालय और संस्थान 20 नवंबर तक बंद रहेंगे, सिर्फ वहीं खुलेंगे जहां परीक्षाएं चल रही हैं। निर्माण और भवन गिराने आदि का काम 17 नवंबर तक बंद रहेगा। 

राय ने पत्रकारों से कहा, ‘‘विभाग द्वारा शनिवार देर रात जारी आदेश में हमने स्पष्ट किया है कि जिन स्कूलों और शिक्षण संस्थानों में परीक्षाएं चल रही हैं वो खुले रहेंगे। अन्य सभी शिक्षण संस्थान 20 नवंबर तक बंद रहेंगे।’’ दिल्ली सरकार के पर्यावरण सचिव द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि भवन आदि निर्माण कार्य तत्काल प्रभाव से 17 नवंबर तक बंद रहेगा। 

कंगाना रनौत के खिलाफ विपक्ष आग-बबूला, कई राज्यों में FIR दर्ज, BJP ने साधी चुप्पी 

अधिसूचना में कहा गया है कि दिल्ली सरकार के सभी कार्यालय, स्वायत्त प्रतिष्ठान और सहकारी संस्थान 17 नवंबर तक बंद रहेंगे, हालांकि आपात सेवाएं देने वाले क्षेत्र जैसे स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, चिकित्सा प्रतिष्ठान, पुलिस, पर्यावरण विभाग, लोक निर्माण विभाग, दमकल विभाग आदि काम करते रहेंगे। राय ने कहा, ‘‘आपात सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी विभागों के सरकारी कर्मचारी 17 नवंबर तक घर से काम करेंगे। हमने निजी कंपनियों को भी परामर्श जारी कर कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने को कहा है।’’ 

निर्वाचन आयोग ने कोर्ट में कहा- चुनाव चिन्ह को लेकर भीम आर्मी प्रमुख की याचिका पर करेंगे विचार

उन्होंने कहा कि इन सभी आपात कदमों का लक्ष्य दिल्ली में वाहन और धूल से होने वाले प्रदूषण को कम करना है। मंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार सोमवार को अदालत को लॉकडाउन और उसके तरीके पर प्रस्ताव सौंपेगी। सरकार द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, सभी विभाग और एजेंसियां सुनिश्चित करें कि जन सेवाएं सुचारू रूप से जारी रहें। अधिसूचना में सभी निजी कार्यालयों और प्रतिष्ठानों को अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने को कहा गया है ताकि सड़कों पर 17 नवंबर तक कम से कम संख्या में वाहन रहें। 

पंजाब विधानसभा चुनाव में मोगा से किस्मत आजमाएंगी अभिनेता सोनू सूद की बहन

प्रदूषण मुक्ति के लिए एक दिन सार्वजनिक यातायात का इस्तेमाल करें: सिसोदिया 
दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को राजधाानी में रहने वाले लोगों को साथ आने और ‘युद्ध प्रदूषण के विरुद्ध’ अभियान में शामिल होने की अपील की। सिसोदिया ने कहा कि यातायात सिग्नल (संकेतक) पर वाहन का इंजन बंद करने और महीने में कम से कम एक बार सार्वजनिक यातायात माध्यम का इस्तेमाल करने जैसे छोटे कदम शहर को ‘स्वस्थ’ और ‘प्रदूषण मुक्त’ बना सकते हैं। सिसोदिया ने दिल्ली सरकार के संवाद एवं विकास आयोग (डीडीसी) द्वारा राहगिरी फाउंडेशन के सहयोग से पटपडग़ंज विधानसभा क्षेत्र में प्रदूषण के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए चलाए जा रहे एक दिवसीय इलाका राहगिरी कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। सिसोदिया के हवाले से जारी बयान में कहा गया, ‘‘

न्यायपालिका की स्वतंत्रता, सत्यनिष्ठा की सभी स्तरों पर रक्षा करना बेहद जरूरी : CJI रमण

व्यक्तिगत और सामुदायिक स्तर पर आगे आकर प्रदूषण को कम करने के लिए काम करना हमारा सामूहिक कर्तव्य है। दिल्ली को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए प्रत्येक नागरिक को अपने हिस्से की जिम्मेदारी लेनी होगी।’’ उन्होंने कहा कि यातायात सिग्नल पर वाहन का इंजन बंद करने और सार्वजनिक यातायात का इस्तेमाल करने जैसे छोटे कदम उठाकर नागरिक स्वस्थ दिल्ली की नींव रख सकते हैं, प्रत्येक नागरिक को कम से कम एक दिन सार्वजनिक यातायात का इस्तेमाल करना चाहिए, पैदल चलना चाहिए या साइकिल चलाना चाहिए। 

निजी निवेश को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों, वित्त मंत्रियों के साथ बैठक करेंगी सीतारमण

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.