Thursday, May 13, 2021
-->
now beggars are also digital if there is no money then what happens albsnt

बीता कटोरे का जमाना! भिखारी भी हुए डिजिटल, पैसे नहीं हैं तो क्या हुआ... करें कैसलेस पैमेंट

  • Updated on 4/11/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दुनिया बदल रहा है तो भिखारियों के तेवर भी बदल रहे है। अब वे भी समय के साथ डिजिटल होते जा रहे है। चीन में भिखारी ई-वालेट से भीख मांगते दिख जाएंगे। जो संकेत कर रहा है कि डिजिटल क्रांति के गिरफ्त में पूरी दुनिया आ चुकी है।

बिहार का किसान उगा रहा दुनिया की महंगी Vegetable, कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

दरअसल चीन में टैक्नोलॉजी काफी उन्नत हो गई है। वहां की जनता लगभग कैसलेस ही चलते है। जिससे सड़क किनारे खड़े रहने वाले भिखारियों को भीख नहीं मिल पाती थी। जिससे बचने के लिये भिखारी भी कार्ड लेकर चलते है। इन भिखारियों को QR कोड के साथ सड़क किनारे खड़े देखा जा सकता है। 

जानें किन देशों में सबसे ज्यादा होती हैं अन्न की बर्बादी,क्या कहती हैं सर्वे? 

मालूम हो कि भारत में हालांकि भीख मांगने के लिये अभी-भी पुराने कटोरा का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन आने वाले दिनों में अगर भिखारियों को भी डिजिटल मोड में पैमेंट मांगते हुए देखा जाना कोई आश्चर्य नहीं होगा। एक आंकड़े के अनुसार देश भर में कुल 4,13,670 भिखारी मौजूद है। उधर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका लगाई गई है जिसमें भीख मांगने को अपराध की श्रेणी से बाहर रखने की पुरजोर मांग रखी गई है। अब देखना होगा कि सुप्रीम कोर्ट इस पर क्या फैसला सुनाती है। हालांकि कोर्ट ने  बिहार, महाराष्ट्र, गुजरात, पंजाब और हरियाणा से इस याचिका पर जवाब मांगा है। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.