Monday, Nov 29, 2021
-->

जम्मू कश्मीर की स्थिति नाजुक, पत्थरबाजों में शामिल हुई लड़कियां

  • Updated on 4/25/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू कश्मीर की स्थिति दिन प्रतिदिन बिगड़ती नजर आ रही है। घाटी मामला हाथों से निकलता दिख रहा है। रोजाना कोई ना कोई घटना सामने आ ही जाती है। अब आश्चर्य की बात तो यह है कि बत्थरबाजों में अब लड़कियां भी शामिल हो गई है। स्कूल की छात्राओं ने सड़को पर उतर कर जमकर प्रदर्शन किया।  

पाक को धूल चटाने को तैयार है भारतीय सेना, विश्व में पाया पांचवा स्थान!

कभी वहां नेता को गोलियों से मार दिया जाता है तो कभी पत्थरबाज हमारी सेना को परेशान करने लगते है। बता दे कि छात्र छात्राओं के प्रदर्शन के कारण ही पिछले लगभग 5 दिनों से स्कूल बंद थे सोमवार को जैसे ही स्कूलों को खोला गया तो छात्रों ने फिर से प्रदर्शन शुरू कर दिया। देखा गया कि सुरक्षाकर्मियों पर लड़कियों ने भी जमकर पत्थर बाजी की। 

सुरक्षाबलों और छात्रों में नोंकझोंक पुलवामा डिग्री कॉलेज से शुरू हुआ था। जिसमें लगभग 50 लोग घायल हो गए थे। लेकिन अब स्थिति इतनी नाजुक हो गई है कि ये प्रदर्शन पूरी घाटी में फैलता नजर आ रहा है। अधिकतर स्कूलों के छात्र सड़को पर प्रदर्शन के लिए उतर आए है।

 ये मामला एसपी सेकंडरी स्कूल से बढ़ना शुरू हुआ। यहा जब छात्र और सुरक्षाबलों के बीच तनाव हुआ और वो काबू करना मुश्किल हो गया तो पानी और आसू गैस का सुरक्षाकर्मियों को इस्तेमाल करना पड़ा।

चीन ने मुस्लिम बच्चों के ‘सद्दाम’ और ‘जिहाद’ जैसे कई नामों पर पाबंदी लगाई

एक अखबार के मुताबिक इसमें सुरक्षाकर्मी घायल हुए उनके साथ साथ कई गाड़िया भी टूटी। 12 सुरक्षाकर्मी घायल हुए और मौलाना आजाद रोड पर उपस्थित सभी गाड़िया भी टूटी। इस मामले में कई छात्रों को हिरासत में लिया गया है। इसके मामले को काबू में करने के लिए हवा में फॉयर भी करना पड़ा। 

वहीं अगर बात की जाए वहां के हालात की तो सूत्रों के मुताबिक सीएम महबूबा और पीएम मोदी की बैठक घाटी में शांति बनाने को लेकर हुई थी और इसके लिए पीएम ने भी कुछ समय मांगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.