Tuesday, Nov 30, 2021
-->
now-the-children-of-the-villages-will-also-play-and-jump-and-bring-medals

अब गांवों के बच्चे भी खेलेंगे-कूदेंगे और लाएंगे मेडल

  • Updated on 11/24/2021

नई दिल्ली,  (टीम डिजिटल):अब खेल सुविधाएं ग्रेटर नोएडा के सेक्टरों तक ही सीमित नहीं रहेंगी, बल्कि गांवों में भी अच्छी सुविधाएं मिल सकेंगी। दिल्ली से सटे नोएडा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण हर गांव में खेल मैदान बनाने जा रहा है। प्राधिकरण ने पहले चरण के पांच गांव चिंहित कर लिए हैं। खेल मैदान बनाने के लिए बहुत जल्द टेंडर भी जारी होने वाले हैं। इसके बाद काम शुरू हो जाएंगे। 

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने हर गांव में खेल के मैदान बनाने के लिए जगह चिंहित करने की जिम्मेदारी नियोजन विभाग को दी थी। नियोजन ने अब तक पांच गांव चिंहित कर लिए हैं। ये गांव पाली, खोदना खुर्द, चुहड़पुर, सैनी व धूममानिक पुर हैं। इनकी डिजाइन अप्रूव्ड हो गई है। टेंडर शीघ्र जारी होने जा रहा है। चुनावी अधिसूचना लागू होने से पहले निर्माण शुरू कराने की योजना है। इन खेल ग्राउंड में दो बैडमिंटन कोर्ट, वालीबॉल कोर्ट, कबड्डी कोर्ट, रेसलिंग कोर्ट, डेढ़ मीटर चौड़ा रेसिंग ट्रैक, ओपन प्ले ग्राउंड आदि खेल सुविधाएं होंगी। इन खेल ग्राउंड में ओपन जिम की भी सुविधा दी जाएगी। इन पांचों खेल ग्राउंड पर एक करोड़ रुपए से अधिक खर्च होने का आकलन है। इनके बाद अन्य गांवों में भी खेल ग्राउंड चिंहित कर  सुविधाएं विकसित की जाएंगी। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने इन सभी खेल ग्राउंड को शीघ्र विकसित करने के निर्देश दिए हैं। सीईओ ने नियोजन विभाग से कहा है कि जिन गांवों में खाली जगह मिल सके, उसे खेल के मैदान के रूप में चिंहित करें, ताकि वहां खेल सुविधाएं विकसित की जा सकें। इससे गांवों के बच्चों का खेलों के प्रति झुकाव बढ़ेगा। यहां के बच्चे खेलों में जिला, प्रदेश व देश का प्रतिनिधित्व कर सकेंगे।

कुश्ती की भी बारीकियां सीख सकेंगे ग्रेनो के खिलाड़ी

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर खेलो इंडिया के तहत ग्रेटर नोएडा के अंतर्गत आने वाले गांवों में खेल सुविधाएं बढ़ाने पर काफी जोर दिया जा रहा है। प्राधिकरण अब ग्रेटर नोएडा के सेक्टर 37 में रेसलिंग कोर्ट बनाने जा रहा है। दरअसल, सेक्टर 37 में स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स के लिए करीब चार हेक्टेयर जगह पहले से चिंहित है। उसी में से 50 गुणा 15 मीटर एरिया में रेसलिंग कोर्ट बनाया जा रहा है, जिसमें दो रिंग जल्द बनाने की योजना है। ये दो रिंग 12 गुणा 12 वर्ग मीटर के बनेंगे। एक रिंग कच्चा और दूसरा पक्का होगा। इसके अलावा चेंजिंग रूम व ट्वॉयलेट भी होगा। कुश्ती देखने वालों के लिए दर्शक दीर्घा भी बनेगा। इसे बनवाने में करीब 60 लाख रुपये खर्च होने का आकलन है। सीईओ के निर्देश पर प्रोजेक्ट विभाग इसका टेंडर जारी कर चुका है। बहुत जल्द कंपनी का चयन कर निर्माण शुूरू कराने की तैयारी है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.