Thursday, Sep 23, 2021
-->
now-you-can-test-the-meat-is-halal-or-not

आपकी थाली में परोसा गया मीट हलाल का है या नहीं, अब आप भी कर सकेंगे पहचान

  • Updated on 11/12/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जब आप किसी रेस्त्रां में नॉन वेज खाने जाते हैं या किसी दुकान से मीट खरीद कर लाते हैं तो आपके जेहन में हमेशा ये खयाल आता होगा कि यह मीट हलाल का है या नहीं। अब तक ऐसी कोई तरकीब नहीं थी जिससे ये पता चल सके कि मीट हलाल का है या नहीं, लेकिन अब ऐसी तकनीक इजाद कर ली गई है, जिससे आप खुद टेस्ट कर सकेंगे कि मीट हलाल है या नहीं। हैदराबाद के वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च में इस बात का दावा किया है कि इस टेस्ट के बाद इस बात का आसानी से पता लगाया जा सकेगा।

श्री श्री रविशंकर के समर्थन में उतरे हाजी महबूब, कहा- प्रेम भाव से हो अयोध्या मामले का हल

हैदराबाद स्थित नेशनल रिसर्च सेंटर ऑन मीट(NCRM) के वैज्ञानिकों ने इसकी पहचान करने के लिए दो भेड़ों पर टेस्ट किया, जिसमें एक भेड़ हलाल की गई थी और दूसरी भेड़ बिजली के झटके से मारी गई थी। वैज्ञानिकों ने टेस्ट के बाद पाया कि दोनों भेड़ों के मीट अलग-अलग हैं।

हलाल की हुई भेड़ के मीट में प्रोटीन विशेष का समूह पाया गया जबकि दूसरी भेड़ के मीट में ऐसा नहीं था। वैज्ञानिकों ने बताया कि जब जानवरों को काटा जाता है तो उनमें तनाव उत्पन्न होता है इसके आधार पर भी मीट की पहचान की जा सकती है।

राफेल डील विवाद: मोदी सरकार ने SC को दिए दस्तावेज, बताई विमान खरीदने की प्रक्रिया

वैज्ञानिकों ने बताया कि रक्त जैव रासायनिक मानकों और प्रोटीन स्ट्रक्चर की जांच के आधार पर वो हलाल मीट की पहचान कर सकते हैं। हलाल मीट की पहचान करने के लिए यह दुनिया में अपनी तरह का पहला टेस्ट है। इस टेस्ट को वैज्ञानिकों ने 'डिफरेंस जेल इलेक्ट्रोफॉरेसिस' टेस्ट नाम दिया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.