Thursday, Apr 02, 2020
nsa ajit doval pakistan false propaganda jamuu kashmir article 370

Article 370 के सहारे कश्मीर में आतंकवाद फैला रहा था PAK: अजीत डोभाल

  • Updated on 9/7/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अनुच्छेद 370 (Article 370) पर भारत सरकार (Indian Government) की कार्रवाई के बाद से पाकिस्तान (Pakistan) बौखलाया हुआ है। इस पर भारतीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) का बयान आया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर (Kashmir) के हालात पर जूठा प्रोपेगेंडा चलाने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को इस विषय में जानकारी नहीं है वो एक दो लोगों की बातें सुन कर ही कश्मीर के हालात के विषय में अपनी राय बना रहे हैं।

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर खंड हटाए जाने और उसके पुनर्गठन बिल के पास होने के बाद से केंद्र सरकार वहां के हालात सामान्य करने की कोशिशों में लगी है। वहीं भारतीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी इसके लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। 

जम्मू-कश्मीर में कारोबार शुरू, सेब के 700 ट्रक घाटी से रवाना

मिलिटेंट्स ने दुकानदार को मारी गोली
एनएसए अजीत डोभाल ने बताया कि कश्मीर में एक दुकानदार अपनी दुकान खोलने की कोशिश कर रहा था, उस पर मिलिटेंट्स ने गोलियां चलाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान कश्मीर के हालातों को लेकर विश्व भर में गलत प्रचार कर रहा है। वो भारत की छवि को विश्व में खराब करने की कोशिश कर रहा है। डोभाल ने ये भी कहा है कि पाकिस्तान अनुच्छेद 370 को कश्मीर में आतंकवाद बढ़ाने के लिए उत्प्रेरक की तरह इस्तेमाल कर रहा है। 

आतंकवाद पर पाकिस्तान फिर हुआ बेनकाब, LOC के पास मिली आतंकी ट्रेनिंग कैंपों की तस्वीरें

'कश्मीर के किसी नेता पर देशद्रोह का केस नहीं'
कश्मीरी नेताओं को हिरासत में लेने की बात पर उनका कहना है कि उनको एहतियातन नजरबंद किया गया है। अभी कश्मीर के हालात ऐसे नहीं हैं कि वहां कोई भी भीड़ जमा की जाए। यही कारण है कि उनको बंद करके रखा गया है। जैसे ही कश्मीर के हालात सामान्य होते हैं उनकों आजाद कर दिया जाएगा। किसी भी नेता पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.