Tuesday, Apr 13, 2021
-->
nursery-admission-ews-dg-notification-will-be-released-this-week-kmbsnt

Nursery Admission: इसी हफ्ते जारी होगा ईडब्ल्यूएस-डीजी का नोटिफिकेशन

  • Updated on 4/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय द्वारा 1500 से अधिक निजी स्कूलों में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग (ईडब्ल्यूएस), डिसएडवांटेज ग्रुप (डीजी) के लिए आरक्षित 25 फीसद सीटों पर दाखिले (Nursery Admission) का नोटिफिकेशन इसी हफ्ते जारी किया जाएगा। शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने बताया कि स्कूलों ने केजी, नर्सरी व पहली कक्षा की सीटों का संशोधित डाटा मंगा लिया गया है।

ईडब्ल्यूएस-डीजी कैटेगरी के नोटिफिकेशन के मसौदे को अप्रूवल के लिए भेजा गया है। जिसके इसी हफ्ते अप्रूव होकर दाखिला प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है। बता दें सामान्य कैटेगरी की 75 फीसद सीटों पर शुरू हुई दाखिला प्रक्रिया 31 मार्च को पूरी हो चुकी है। जिसके बाद लगातार अभिभावक ईडब्ल्यूएस-डीजी कैटेगरी की सीटों पर आवेदन के बारे में जानकारी मांग रहे हैं।

बता दें कि 75 फीसद ओपन सीट्स पर 20 मार्च को जारी की गई पहली सूची के बाद दाखिला  प्रक्रिया चल रही है। जहां अभिभावक स्कूल जाकर अपने दस्तावेज चेक कराकर सीट पक्की करने के लिए फीस जमा कर रहे हैं। अभिभावकों का कहना है कि कुछ स्कूल एक महीने की फीस मांगी है बाकी फीस स्कूल खुलने पर ली जाएगी।

महाराष्ट्र में उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, राज्य में वीकेंड Lockdown को दी मंजूरी

फीस को लेकर असमंजस में अभिभावक
वहीं कुछ स्कूल फीस में कोई ब्रेकअप नहीं दे रहे हैं। उन्हें 40 हजार, 60 हजार या जो भी उनकी फीस है पूरी जमा करा रहे हैं। एक अभिभावक बबिता ने बताया कि डीएवी स्कूल बिना ब्रेकअप के 40 हजार मांग रहा है। वहीं कई अभिभावक फीस रिफंड को लेकर उलझन में नजर आ रहे हैं। उनका कहना है कि स्कूल कैश में फीस मांग रहे हैं, जिसकी वो रसीद नहीं दे रहे। 

Corona का असर! महाराष्ट्र से सटे सीमा को सील करने का आदेश दिया शिवराज,कहा- स्थिति चिंताजनक 

इतनी फीस मांग रहे स्कूल 
द्वारका स्थित कुछ स्कूलों की फीस की बात करें तो बीजीएस 50 हजार रुपए फीस ले रहा है, जिसकी वह रसीद दे रहा है।वहीं केएचएमएस अशोक विहार 40 हजार, कैब्रिज 50 हजार, रयान सैलोम 57 हजार रोहिणी, रामजस स्कूल आरकेपुरम 23,300 रुपए, सेट्रल दिल्ली में एसपीवी 42500 रुपए ले रहे हैं। शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने कहा कि स्कूल अभी खुले नहीं हैं और ऑनलाइन कक्षाएं ही संचालित की जाएंगी। इसलिए वह डेवलपमेंट चार्ज, एनुअल चार्ज, वाहन शुल्क आदि नहीं ले सकेंगे। वहीं स्कूलों को निदेशालय की गाइडलाइंस के मुताबिक कैश में फीस नहीं लेनी है।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.