Monday, Oct 03, 2022
-->
nursery admission: private schools released first list in open category

नर्सरी दाखिला: ओपन कैटेगरी में निजी स्कूलों ने जारी की पहली सूची

  • Updated on 2/4/2022

नई दिल्ली/पुष्पेंद्र मिश्र। राष्ट्रीय राजधानी के निजी स्कूलों में अकादमिक सत्र 2022-23 के लिए चल रही नर्सरी दाखिला प्रक्रिया में आज निजी स्कूलों ने सफल आवेदकों की पहली सूची घोषित कर दी है । जिसे अभिभावक स्कूल के नोटिस बोर्ड या स्कूल की वेबसाइट पर ऑनलाइन देख सकते हैं। पहली सूची के साथ-साथ एक प्रतीक्षा सूची भी जारी की गई है।

दिल्ली में कोरोना पाबंदियों में छूट, फिर से खुलेंगे जिम, स्कूल और कॉलेज

सफल आवेदकों की दूसरी सूची 21 और तीसरी 15 मार्च को होगी जारी
ऐसे अभिभावक जो दूसरे स्कूलों में नाम आने पर अपने बच्चे का दाखिला दूसरे स्कूल में कराएंगे उनके स्थान पर प्रतीक्षा सूची में चुने गए बच्चों को मौका दिया जाएगा। पहली सूची में नाम आ गया है तो अभिभावक बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, बच्चे का स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, टीकों का सर्टिफिकेट आदि लेकर स्कूल पहुंचें। जहां तय तिथि में दस्तावेज की प्रक्रिया पूरी कर अपनी फीस जमा करें और अपनी सीट कंफर्म कर लें।

जामिया कुलपति की प्रधानमंत्री से मुलाकात, उत्कृष्ट प्रदर्शन और नेतृत्व के लिए की प्रशंसा

1729 निजी स्कूलों में 1.5 लाख से अधिक सीटों पर चल रही है दाखिला प्रक्रिया
कई स्कूलों में आवेदन किया है तो भी अभिभावक पहले स्कूल में सीट आने पर उसे कंफर्म जरूर करें। ताकि कहीं और नाम न आने पर बच्चे का वर्ष खराब न हो। ऐसे अभिभावक जिनके बच्चे का पहली सूची में नाम नहीं आया और उन्हें लगता है कि स्कूल के क्राइटेरिया के अनुसार उनका बच्चा योग्य है तो वह 5 से 12 फरवरी तक स्कूल जाकर या टेलीफोन के जरिए अपनी शिकायत का समाधान स्कूल से कर सकते हैं। जिसमें स्कूल आपको यह वजह बताएगा कि उनके बच्चे का नाम पहली सूची में इसलिए नहीं रखा गया।

सुप्रीम कोर्ट ने गेट परीक्षा स्थगित करने से किया इनकार

पहली सूची में नाम नहीं है तो मायूस न हों अभिभावक
पहली सूची में नाम न आने पर अभिभावक मायूस न हों स्कूलों में बची सीटों पर 21 फरवरी को निजी स्कूल दूसरी सूची जारी करेंगे। जिसमें नाम नहीं आने पर अभिभावक 22 से 28 फरवरी तक स्कूल जाकर अपनी शंकाओं का समाधान कर सकेंगे। इसके बाद अगर स्कूल की सीटें खाली बचीं तो तीसरी सूची 15 मार्च को जारी की जाएगी जिसकी दाखिला प्रक्रिया 31 मार्च तक पूरी कर ली जाएगी।

BUDGET 2022 : शिक्षा क्षेत्र में 11 हजार करोड़ रुपए की हुई बढ़ोत्तरी

आवेदन की उम्र सीमा
कक्षा:- नर्सरी 31 मार्च को 4 वर्ष
कक्षा: केजी 31 मार्च को 5 वर्ष
कक्षा : पहली(एक) 31 मार्च तक 6 वर्ष

10वीं-12वीं टर्म-1 रिजल्ट तैयार करने की प्रक्रिया में है बोर्ड : परीक्षा नियंत्रक

दस्तावेज जो हैं जरूरी
नर्सरी, केजी व पहली कक्षा में आवेदन के लिए अभिभावक के पास पते के रूप में सरकार द्वारा जारी किया गया राशन कार्ड, स्मार्ट कार्ड, मूल निवास प्रमाण पत्र, मतदाता पहचान पत्र, बिजली बिल, एमटीएनएल टेलीफोन बिल, मां-बाप या बच्चे के नाम पासपोर्ट, अभिभावक में किसी के नाम आधार कार्ड आदि का इस्तेमाल किया जा सकता है।
मॉनिटरिंग सेल करेगी दाखिलों की निगरानी
शिक्षा निदेशालय ने नर्सरी दाखिला प्रक्रिया की निगरानी के लिए प्रत्येक जिले के डिप्टी डायरेक्टर एजुकेशन की अध्यक्षता में एक निगरानी समिति का गठन किया है। जो निजी, मान्यता प्राप्त अनअडेड स्कू लों में अपलोड किए गए दाखिला मानदंडों समेत आवेदन के अन्य चरणों की निगरानी कर दाखिला प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने पर काम करेगी। यह समिति अभिभावकों की शिकायतों को भी सुनेगी। स्कू ल अगर किसी अनुचित प्रक्रिया का उपयोग करते हैं तो अभिभावक शिक्षा निदेशालय की आधिकारिक वेबसाइट पर शिकायत एवं मॉनिटरिंग सिस्टम लिंक पर जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
फीस रिफंड पॉलिसी
अगर किसी स्कूल ने अभिभावक से फीस जमा करा ली है और दस्तावेज पूरे न होने पर दाखिला रद्द कर दिया है। तो अभिभावक को पंजीकरण फीस छोडकर पूरी रकम स्कूल द्वारा वापस की जाएगी। दूसरे मामले में यदि स्कू ल द्वारा बच्चे की फीस जमा करा ली गई है और अभिभावक बच्चे का नाम संबंधित स्कूल से वापस लेना चाहता है। ऐसी स्थिति में दाखिले की तिथि से लेकर एक माह तक की ट्यूशन फीस और पंजीकरण फीस छोडक़र बाकी पूरी फीस स्कूल द्वारा अभिभावक को एक माह के अंदर वापस करनी होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.