Tuesday, Apr 07, 2020
Open the way out of the country for those who shout freedom

CAA: आजादी के नारे लगाने वालों के लिए खोला जाए देश से बाहर का रास्ता- उप सीएम पटेल

  • Updated on 1/24/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। गुजरात (Gujrat) के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल (Nitin patel) ने बृहस्पतिवार को कहा कि जो नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और ‘आजादी’ मांग रहे हैं उन्हें देश छोड़कर जाने दिया जाना चाहिए।

दिल्ली चुनाव: पाकिस्तानी PM इमरान खान की भाषा बोलते हैं केजरीवाल और राहुल गांधी- शाह

कुछ लोग जमा होते हैं और 'आजादी' के नारे लगाते हैं
दरअसल, वे यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। पटेल ने कहा, 'देश को आजादी 1947 में मिल गयी थी लेकिन आप देखते हैं कि कुछ लोग जमा होते हैं और 'आजादी' के नारे लगाते हैं। आपको किससे आजादी चाहिए? क्या आपको अपने माता-पिता से आजादी चाहिए? क्या आप अपने पति से आजादी चाहती हैं? मैं इसे समझ नहीं पाता हूं।'

हिंदू महासभा की विभाजनकारी सियासत का नेताजी बोस ने किया था विरोध : ममता

पीएम सीमा खोल दें और ये जहां जाना चाहते हैं, चले जाएं
उन्होंने कहा, 'भारत एक आजाद देश है और दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है।' भाजपा नेता ने कहा, 'अगर वे भारत से आजादी चाहते हैं तो हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह करना चाहिए कि वह सीमा खोल दें और ये जहां जाना चाहते हैं, चले जाएं।'

#CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करेगी राजस्थान में कांग्रेस सरकार

प्रदर्शनकारी भूल गए कि यह गुजरात है कश्मीर नहीं
उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अहमदाबाद में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान पुलिस पर पूर्व योजना के तहत हमला किया गया था। उन्होंने कहा कि इस दौरान ट्रक भरकर पत्थर इकट्ठा किया गया था लेकिन वे भूल गए कि यह गुजरात है कश्मीर नहीं।

comments

.
.
.
.
.