our-government-will-build-again-ramesh-bhiduri

रमेश बिधूड़ी: राष्ट्रवाद से ओतप्रोत है देश फिर से बनेगी हमारी सरकार

  • Updated on 5/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने रमेश बिधूड़ी को दक्षिणी दिल्ली से टिकट दिया था। बिधूड़ी जीतकर संसद पहुंचे। क्षेत्र में मजबूत पकड़ रखने वाले बिधूड़ी पिछले दिनों पूर्वांचल विरोध को लेकर विवाद में आ गए थे। इसके बाद कहा जा रहा था कि शायद उनको इस बार टिकट नहीं मिले, लेकिन आज वह चुनावी मैदान में है। नवोदय टाइम्स ने उनसे विशेष बातचीत की। प्रस्तुत हैं प्रमुख अंश:

क्षेत्र में पेयजल की समस्या काफी गंभीर है। क्या कहेेंगे?
मुख्य सचिव से मिलकर 20 एमजीडी के यूजीआर को चलवाकर एक दिन छोडक़र अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति शुरू कराई। देवली, संगम विहार और तुगलकाबाद को फिल्टर वाटर दिया जा रहा है। इसी तरह द्वारका में बने स्रोत से बिजवासन और पालम को पेयजल मिल रहा है। लेकिन, यह पूरा नहीं पड़ रहा है। लोग  पेयजल के लिए परेशान है, लेकिन केजरीवाल सरकार जिसकी मुख्य जिम्मेदारी है, वह कुछ नहीं कर रही।

साउथ दिल्ली में मेट्रो काम अटका है?
चौथे चरण की मेट्रो 2016 में आनी थी, लेकिन दिल्ली की आप सरकार ने इसे लेट किया। जीतने के बाद 100 दिन के भीतर शिलान्यास करके इसका काम शुरू कराएंगे।

अवैध कॉलोनियों में समस्याएं बहुत हैं?
दिल्ली सरकार ने कुछ नहीं किया। शहरी विकास मंत्रालय ने एलजी की अध्यक्षता में कमेटी बनाई है। इस कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर केन्द्र में भाजपा सरकार बनने के बाद छह महीने के भीतर काम किया जाएगा।

आप सांसद रहे, क्या काम किया और किन दिक्कतों को दूर करना  बाकी है?
दिल्ली विश्वविद्यालय के नए कॉलेज की स्वीकृति कराई तो मैदानगढ़ी में शानदार रग्बी स्टेडियम,महिपालपुर में लगने वाले जाम को दूर किया। रेल अंडर ब्रिज, रेल ओवर ब्रिज बनाए गए। 25 कम्युनिटी सेंटर, 25 प्राइमरी स्कूलों के पक्के भवन, 250 पार्क, 235 पार्कों में जिम, लगवाए गए।

लड़ाई किससे मानते हैं, कांग्रेस या आप?
कांग्रेस और आप दोनों चौथे नंबर पर हैं। इन लोगों की कोशिश है कि मुस्लिम वोट उनको अधिक मिले। लेकिन, उनको पता नहीं है कि नए जमाने में मुस्लिम विकास की बात सोचता है और विकास के नाम पर ही भाजपा का वोट देगा।

आपके सामने  मुक्केबाज विजेन्द्र हैं, उनके पंच से कैसे बच रहे हैं?
आम आदमी पार्टी हर जगह मुझे दबंग और ना जाने क्या-क्या कह रहे हैं। अब मुक्केबाज से दंबग कहां डरने वाला।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.