Thursday, Mar 21, 2019

OMG! भविष्य में रोबोट गढ़ेंगे हमारी दुनिया, हूबहू प्रकृति की होगी नकल

  • Updated on 3/15/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। रोबोट एवं ड्रोन प्रकृति की युक्तियों की नकल उतार भविष्य के शहरों को बसाने में मददगार साबित हो सकते हैं। एक नये अध्ययन में ऐसा दावा किया गया है। रोबोट के इस्तेमाल से काम जल्दी पूरा होगा और निर्माण के साथ-साथ इन कार्यों की निगरानी भी की जा सकेगी। साथ ही यह मानवीय जोखिम को भी कम करेगा।

अध्ययन के मुताबिक रोबोट जो कुछ वे करते हैं उन सबका डेटा इकठ्ठा कर सकते हैं और इसके जरिए वे अपने काम में सुधार कर सकते हैं। ब्रिटेन के इंपीरियल कॉलेज लंदन के मिर्को कोवाक ने कहा, भविष्य के शहरों का निर्माण एवं रख-रखाव जमीन पर काम करने वाले एवं हवा में उड़ सकने वाले रोबोटों के जरिए संभव होगा जो इमारतों के शहरी पारिस्थितिक तंत्र एवं अवसंरचना के निर्माण, आकलन एवं मरम्मत के लिए साथ काम करेंगे।

लिएंडर ने 42 साल में ग्रैंडस्लैम जीता, मैं कम के कम कुछ क्रिकेट खेल सकता हूं: श्रीसंत

कोवाक ने एक बयान में कहा, प्रकृति से ऐसे कई उदाहरण मिलते हैं कि इस तरह का सामूहिक निर्माण संभव है और इनमें से कुछ विचारों को सहयोग करने वाले ड्रोन बनाने और उनको संचालित करने के लिए लागू कर हम इस सपने को हकीकत में बदल सकते हैं।

टीम ने प्रकृति से ऐसे उदाहरण लिए जहां जीवों के समूह अपने घरौंदे बनाने में साथ काम करने के लिए विभिन्न युक्तियों का इस्तेमाल करते हैं। अनुसंधानकर्ता इस तालमेल के तरीकों का विश्लेषण कर अल्गोरिद्म तैयार कर सकते हैं जिससे रोबोट एवं ड्रोन के समूह, निर्माण कार्य के दौरान स्वत: ही एक साथ काम करें। यह अध्ययन ‘साइंस रोबोटिक्स’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.