Tuesday, Sep 28, 2021
-->
owaisi grew up on the matter of personally challenging cm yogi adityanath prshnt

CM योगी आदित्यनाथ को चैलेंज देने की बात से पलटे ओवैसी, दी सफाई

  • Updated on 7/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सियासी सरगर्मियां तेज है। हाल ही में एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चैलेंज किया था जिसके बाद ओवैसी ने अपनी बात से पलटते हुए कहा योगी आदित्यनाथ को निजी तौर पर चैलेंज देने की बात नहीं है, बल्कि बात सियासी विरोध की है, हम अगर विरोध में हैं तो हम यही तो कहेंगे कि हम की सरकार नहीं बनने देंगे। ओवैसी ने आगे कहा, ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के साथ गठबंधन किया है, पार्टी 100 से अधिक सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। दरअसल असदुद्दीन ओवैसी ने पिछले दिनों कहा था कि 2022 में योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री नही बनने देंगे।

J-K: कुलगाम के रेडवानी इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी

योगी पर दूसरी लहर के दौरोन अक्षम होने का आरोप
बता दें कि आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर कोविड की दूसरी लहर के दौरोन अक्षम होने का आरोप लगाया। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि अगले वर्ष की शुरुआत में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लड़ाई कोविड की दूसरी लहर में बेवा और यतीम हुए लोगों से होगी।     

ओवैसी ने बहराइच शहर में बने एआईएमआईएम के पूर्वांचल कैम्प कार्यालय के उद्घाटन के बाद आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वंचितों, दलितों व मजलूमों को उनका हिस्सा दिलाने के लिए हमने उत्तर प्रदेश में भागीदारी संकल्प मोर्चा बनाया है। उन्होंने कहा, 2022 के चुनावों में योगी को दोबारा मुख्यमंत्री नहीं बनने देने का संकल्प लेकर हम चुनावी मैदान में उतरे हैं।

Coronavirus: देश में कोविड-19 के 43,393 नए मामले, 911 की मौत

राजभर की अगुवाई में भागीदारी संकल्प मोर्चा
ओवैसी ने आरोप लगाया, कोविड की दूसरी लहर में उत्तर प्रदेश सरकार की वजह से लाखों लोगों की मौत हुई। गंगा नदी में गरीबों की लाशें बह रही थीं, अवाम को ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड नहीं मिल रहे थे। कोविड में विधवा हुई मां-बहनें बड़ी उम्मीद से ओमप्रकाश राजभर के भागीदारी संकल्प मोर्चे की ओर देख रही हैं। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष और भाजपा के पूर्व सहयोगी ओमप्रकाश राजभर की अगुवाई में भागीदारी संकल्प मोर्चा का गठन किया गया है।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.