Monday, Oct 03, 2022
-->
pakistan-hindu-temple-to-be-built-in-islamabad-government-allows-construction-prshnt

पाकिस्तान: इस्लामाबाद में बनेगा हिंदू मंदिर, सरकार ने निर्माण की दी अनुमति

  • Updated on 12/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पाकिस्तान (Pakistan) की सरकार ने सोमवार को इस्लामाबाद (Islamabad) में हिंदू मंदिर निर्माण की अनुमति दे दी। करीब छह महीने पहले यहां मंदिर निर्माण का कार्य कट्टर इस्लामिक समूहों के दबाव की वजह से रूक गया था। कैपिटल डेवलपमेंट अथॉरिटी (CDA) ने सोमवार को लाहौर में एक अधिसूचना जारी करते हुए इस्लामाबाद के सेक्टर-9/2 में हिंदू समुदाय की शमशान भूमि की चाहरदीवारी निर्माण की अनुमति दे दी। इससे पहले कुछ कट्टवादी धर्मगुरुओं ने सरकार को चेतावनी दी कि वे इस्लामाबाद में मंदिर के निर्माण की अनुमति न दें।

ब्रिटेन में बेकाबू कोरोना वायरस से ग्लोबल मार्केट में हड़कंप, सेंसेक्स भी धड़ाम 

मंदिर बनाने की योजना
सीडीए ने जुलाई में मंदिर के लिए तय स्थान पर चारदीवारी निर्माण का कार्य कानूनी कारणों का हवाला देते हुए रोक दिया था। सरकार को धार्मिक मामलों पर सलाह देने वाली परिषद ने अक्टूबर में कहा था कि इस्लामाबाद या देश के किसी भी अन्य स्थान पर मंदिर निर्माण पर संवैधानिक या शरिया प्रतिबंध नहीं है। योजना के अनुसार राजधानी के एच-9 प्रशासनिक खंड में कृष्ण मंदिर का निर्माण 20,000 वर्ग फुट जमीन के हिस्से पर होगा। पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मंदिर के लिए जमीन आवंटित की थी। मंदिर परिसर में अंतिम संस्कार स्थल (शमशान) के अलावा अन्य धार्मिक स्थल के ढांचे होंगे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोती लाल वोरा का हुआ निधन, PMO समेत इन दिग्गज नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

क्षशिला को बताया 'प्राचीन पाकिस्तान' का हिस्सा
बता दें कि हाल ही में हर तरफ से मुंह की खा चुका पाकिस्तान एक बार फिर अपना सिर उठाने की कोशिश कर रहा है। हर बार की तरह इस बार भी पाकिस्तान की तरफ से एक ऐसा बयान दिया गया जिसके कारण वो ट्रोलर्स के निशाने पर आ गया है।

वियतनाम में पाकिस्तान के राजनयिक कमर अब्बास खोखर ने प्राचीन भारत की शान रहे तक्षशिला को 'प्राचीन पाकिस्तान' का हिस्सा बता दिया है। पाकिस्तानी राजनयिक की तरफ से आए ऐसे ट्वीट के कारण एक बार फिर से पाक सरकार शर्म से पानी- पानी हो गई है। इतना ही नहीं पहले तो कमर अब्बास खोखर ने ट्वीट किया लेकिन बाद में उसे डिलीट कर दिया। हालांकि उतने ही देर में भारत के सोशल मीडिया के धुरंधरों ने उसका स्क्रीन शॉर्ट शेयर करना शुरु कर दिया।

हर जिले में भ्रष्टाचार रोधी विशेष अदालतें स्थापित करने के लिए SC में याचिका दायर

भारतीय यूजर्स ने कमर अब्बास खोखर की ली क्लास
वहीं भारतीय यूजर्स ने कमर अब्बास खोखर की क्लास लगाते हुए उन्हें तक्षशिला के बारे में पूरे विस्तार से बताया। सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उनके ट्वीट पर रिएक्ट करते हुए लिखा कि पहले पाकिस्तान कब बना ये तो जान लीजिए। इतना ही नहीं कुछ ही देर में प्राचिन पाकिस्तान ट्रेंड करने लगा। एक यूजर ने कहा कि 'ये प्राचीन पाकिस्तान क्या होता है। आप खुद 1947 में पैदा हुए हो। आप अधिक से अधिक सिर्फ महान भारत का सदस्य होने का दावा कर सकते हैं।' एक अन्य यूजर ने लिखा कि अगर 14-15 अगस्‍त 1947 से पहले पाकिस्तान ही नहीं था तो उसके किसी इतिहास का सवाल ही नहीं पैदा होता।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

 

 

comments

.
.
.
.
.