Monday, Nov 29, 2021
-->
Pakistan spews poison over the verdict on the Babri Masjid case said this PRSHNT

बाबरी मस्जिद केस पर आए फैसले पर पाकिस्तान ने उगला जहर, कही ये बात

  • Updated on 10/1/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) का ढांचा गिराए जाने के मामले में सीबीआई (CBI) की विशेष अदालत ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाते सुनाया है और इसके सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया। कोर्ट ने कहा कि 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराए जाने के मामले में आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं है।

इस मामले में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani), मुरली मनोहर जोशी (Murli Manohar Joshi) और उमा भारती (Uma Bharti) समेत कई अन्य लोग अभियुक्त बनाए गए थे, इस फैसले को लेकर पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) ने भी प्रतिक्रिया दी है।

बाबरी विध्वंस मामले में पर्सनल लॉ बोर्ड ने की CBI से अपील दायर करने की गुजारिश

पाकिस्तान की टिप्णी
पाकिस्तान में हिंदुओं के साथ-साथ से सियाओं का भी उत्पीड़न जारी है। ऐसे पाकिस्तान अपनी घरेलू समस्याओं पर ध्यान देने के बजाय कश्मीर और अयोध्या को लेकर बयानबाजी में लगा हुआ है। पाकिस्तान ने कहा कि अयोध्या में ऐतिहासिक मस्जिद गिराने के लिए जिम्मेदार लोगों को बड़ी करना शर्मनाक है और पाकिस्तान इसकी निंदा करता है।

इस फैसले को लेकर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि जिस पूर्णनियोजित रथ यात्रा और बीजेपी विहिप और संघ परिवार के नेताओं के द्वारा भीड़ को उकसाने की वजह से मस्जिद का ढांचा गिराया गया और जिस अपराधिक कृत्य का टीवी पर लाइव प्रसारण किया गया उसमें उस पर फैसला आने में तीन दशक लग गए। जो दुनिया को साबित करता है कि हिंदुत्ववाद से प्रभावित भारतीय न्यायपालिका एक बार फिर न्याय देने में असफल रही है।

बाबरी विध्वंस: आडवाणी ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगाकर किया फैसले का स्वागत 

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय का भारतीय लोकतंत्र पर सवाल
पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने कहा कि बाबरी मस्जिद के ढांचा गिराए जाने की वजह से बीजेपी की अगुवाई में संप्रदायिक हिंसा भड़की थी और इससे हजारों लोगों की जान गई। उन्होंने कहा कि अगर दुनिया के कथित सबसे बड़े लोकतंत्र में न्याय की जरा भी छाया होती है तो अपराधिक मामले वाले लोगों को बड़ी नहीं किया गया होता।

पाक मत्रालय ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बीजेपी का शासन और संघ परिवार भारत में मस्जिद के दाने और तोड़फोड़ की घटनाओं के जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि वे ऐसा नियोजित तरीके से कर रहे हैं, जैसा गुजरात और दिल्ली दंगे में भी किया गया।

अपने देश में अल्पसंख्यकों को सुरक्षा देने में नाकाम पाकिस्तान ने भारत को नसीहत भी दी है, पाकिस्तान ने भारत सरकार से अल्पसंख्यकों खासकर मुस्लिमों और उनके पूजा स्थलों को संरक्षण और सुरक्षा देने की मांग की, जिस पर हिंदू अपना दावा पेश करते हैं।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

comments

.
.
.
.
.